मूछ की खातिर तय हुई कुत्ते कुतिया की शादी, तिलक में चढ़े 51 हजार

कौशाम्बी (9 मार्च): फिल्मों में मूंछ पर ताव देकर बात कहते हुए और कसमें खाते हुए तो आपने देखा होगा। लेकिन क्या आपने मूंछ के कारण किसी कुत्ते कुतिया की शादी होने की बात सुनी है। ये अचंभित जरूर है लेकिन सच है। हम बात कर रहे हैं यूपी के कौशाम्बी जिले में हुए हैरतंगेज तिलकोत्सव के बारे में।

कौशाम्बी के एक गांव में शगुन नाम के कुत्ते की शादी शगुनी नाम की कुतिया से तय हुई है। इस रिश्ते के पहले पड़ाव में कुतिया पक्ष के लोगों ने गाजे-बाजे के साथ 51 हजार रुपए का तिलक चढ़ाया। बता दें कि यह शादी 11 मार्च को होगी।

कैसे तय हुआ रिश्ता जंगबहादुर और बसंत त्रिपाठी नाम के दो दोस्त हैं। एक बार जंगबहादुर अपनी कुतिया शगुनी के साथ दोस्त बसंत त्रिपाठी के पास पहुंचे। मजाक-माजक में जंगबहादूर ने कहा कि यार कुतिया की शादी के लिए कुत्ता खोज रहा हूं। तभी उनके दोस्त ने कहा कि क्यों नहीं मेरे कुत्ते के साथ कर देते। मजाक-मजाक में कही गई ये बात मूंछों के ताव तक पहुंच गई। इसके बाद क्या था। दोनों ने अपने कुत्ते शगुन और कुतिया शगुनी की शादी तय कर दी।