पंजाब में अब कुत्तों पर भी हो रही है राजनीति

राजेश गौतम, लुधियाना (11 फरवरी): पंजाब में विधानसभा चुनाव करीब हैं और नेताओं को मुद्दों की तलाश है। लिहाज़ा हर वो समस्या सियासी मुद्दा बन रही है जिस पर नेता आमतौर पर कान तक नहीं धरते। लुधियाना के लोग आवारा कुत्तों के आतंक से परेशान हैं। समस्या तो काफी पुरानी है, अब इसे इत्तेफाक कहें या कुछ और सियासत अब जागी है।

कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू की अगुवाई में लोग लुधियाना नगर निगम के आफिस पहुंचे। सरकार और नगर निगम के ख़िलाफ इस गुस्से की वजह बने हैं शहर के अवारा कुत्ते। दरअसल अवारा कुत्तों ने लुधियाना में आतंक मचाया हुआ है। कई लोगों को ये अपना शिकार बना चुके हैं। लोगों का दर्द बयां करने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता अवारा कुत्तों को भी अपने साथ लाए।

कांग्रेस का कहना है कि अवारा कुत्ते शहर में सैंकड़ों लोगों को अपना शिकार बना चुके हैं, लेकिन नगर निगम कुछ नहीं कर रहा। कांग्रेस का आरोप है कि जो पैसा अवारा कुत्तों की नसबंदी के लिए आया था उसे डकार लिया गया। प्रदर्शन के हाथों में बैनर-पोस्टर के अलावा लोगों की तस्वीरें भी थीं जो अवारा कुत्तों का शिकार हुए। पिछले दिनों अवारा कुत्तों ने एक बच्चे का कान काट लिया था, लोग अपने मोबाइल में उस बच्चे की तस्वीर लेकर भी पहुंचे।

देखे रिपोर्ट:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=mH4WYLQsp4M[/embed]