रोजेदार डॉक्टर ने नहीं किया इलाज सीवर कर्मी की होगई मौत

नई दिल्ली (5 मई): पाकिस्तान में सीवर की सफाई के दौरान बेहोश हुए एक सफाईकर्मी की मौत हो गई क्योंकि अस्पताल के एक रोजेदार चिकित्सक ने उसके 'गंदे शरीर' को छूने से इनकार कर दिया। सिंध प्रांत के उमेरकोट जिले में एक मैनहोल की सफाई के दौरान इरफान मसीह और उसके तीन साथी कर्मचारी बेहोश हो गए थे। मसीह की हालत खराब होने लगी तो उसके परिवार के सदस्यों ने अस्पताल के कर्मचारियों से उसका उपचार करने की गुहार लगाई, लेकिन चिकित्सक ने उसकी कीचड़ लगे शरीर को छूने से इनकार कर दिया और कहा कि वह रोजे से है।

 

सफाईकर्मी के भाई परवेज मसीह ने कहा, 'डॉक्टर यूसुफ ने कहा कि वह इरफान के गंदे शरीर को तब तक नहीं छुएगा जब तक उसे साफ नहीं किया जाता। मैंने शरीर को साफ किया जिसके बाद इरफान के लिए ऑक्सीजन का पंप भेजा गया, लेकिन वह पंप खाली था।' इरफान की अस्पताल में मौत हो गई, जबकि तीन अन्य सफाईकर्मियों को पहले हैदराबाद और फिर कराची भेजा गया।