होलिका दहन के दिन करें ये काम, हो जाएंगे मालामाल

नई दिल्ली (01 मार्च): देशभर में गुरुवार को होलिकादहन का त्योहार मनाया जायेगा। होलिकादहन फाल्गुन पूर्णिमा तिथि के प्रदोष काल में भद्रा  तिथि के समाप्त होने के  बाद मनाया जाता है, जाे इस बार गुरुवार की  शाम 6:58 मिनट के बाद शुरू हो रहा है। पूर्णिमा तिथि प्रारंभ होते ही भद्रा शुरू होने के कारण होलिकादहन शाम सात बजे के बाद से किया जा सकेगा। पंचागों के मुताबिक होलिकादहन का सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त शाम 7:22 मिनट से रात आठ बजे तक है।

अगले दिन दो मार्च दिन शुक्रवार को चैत्र कृष्ण पक्ष प्रतिपदा शुरू हो जायेगी। इस दिन पूरे देश भर में धूम-धाम से होली का त्योहार मनाया जायेगा। होलिका का अर्थ भूना हुआ अनाज: होली में जितना महत्व रंगों का है. उतना ही महत्व होलिकादहन का है। इस दिन को इच्छित कामनाओं की पूर्ति करने के लिए श्रेष्ठ माना गया है। 

शास्त्रों में बताए गए नियमों के अनुसार इस साल होलिका दहन के लिए बहुत ही शुभ स्थिति बनी हुई है। होलिका दहन के दिन अगर आप ये उपाय करेंगे तो जीवन में कभी धन की कमी नहीं होगी। 

करें ये काम-

1. होली का त्योहार हिंदू धर्म में बहुत धुम-धाम से मनाया जाता है। सालभर बाद आने वाला यह त्योहार इस बार विशेष संयोग लेकर आ रहा है। इसलिए इस दिन माता-पिता का आशीर्वाद अवश्य लें। अगर संभव हो सके तो इसे आदत में डाल लें। मां लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहेगी।  2. होलिका दहन के दिन किसी जरूरतमंद को जरूरत की चीज अवश्य दें। किसी गरीब को खाना खिलादें। गरीब बच्चों को खाना खिला दें। ऐसा करने से आपके पितृगण हमेशा आप पर कृपा बनाए रखेंगे। आपकी जीवन कभी किसी चीज की कमी नहीं होगी।  3. अगर आपको नकारात्मक ऊर्जाओं से मुक्ति चाहिए तो होलिका दहन के दिन हनुमान मंदिर में जाकर पांच लाल फूल चढ़ाएं और हनुमान चालिसा का पाठ करें, इससे आपकी बड़ी से बड़ी समस्या भी दूर हो सकती है।  4. होली को राख को साफ पानी में मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाएं। ऐसा करने से कुंडली के नौ ग्रहों के दोष दूर हो जाते हैं।