फिलहाल टोल फ्री रहेगा DND, सुप्रीम कोर्ट ने CAG ऑडिट के दिए निर्देश

नई दिल्ली (11 नवंबर): दिल्ली से नोएडा का सफर DND फ्लाईवे के जरिए करने वालों को 'सुप्रीम' राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसल को बरकरार रखा और नोएडा टोल ब्रिज कंपनी लिमिटेड यानी NTBCL की याचिका पर स्टे देने से मना कर दिया। ऐसे में फिलहाल DND टोल फ्री ही रहेगा। आपको बाता दें कि DND फ्लाईवे को टोल फ्री करने के हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ नोएडा टोल ब्रिज कंपनी लिमिटेड (NTBCL) सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई थी।

पिछले दिनों नोएडा रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से 2012 में दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यह कहते हुए इस फ्लाइवे को टोल फ्री कर दिया था कि टोल कानूनी प्रावधान के अनुकूल नहीं है। कोर्ट ने कहा था कि प्रोजेक्ट की लागत वसूलने के बाद आगे भी वसूली जारी रखना गलत है। साथ ही सुप्रीमकोर्ट ने CAG को ऑडिट करने को कहा है कि प्रोजेक्ट बनाने में कितना खर्च आया और कंपनी कितना पैसा वसूल चुकी है.


सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर ने सख्त टिप्पणी करते हुए यह भी कहा था कि 10 किलोमीटर की सड़क को ऐसे बता रहे हैं, जैसे चांद तक की सड़क बनाई हो. कोर्ट ने सुनवाई के दौरान नोएडा अथॉरिटी को भी फटकार लगाई थी और कहा था कि आप लोगों के साथ हैं या टोल कंपनी के साथ? लगता है कि अथॉरिटी इस मामले में गंभीर नहीं है.

आपको बता दें कि पिछले दिनों नोएडा रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से 2012 में दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यह कहते हुए इस फ्लाइवे को टोल फ्री कर दिया था कि टोल कानूनी प्रावधान के अनुकूल नहीं है। कोर्ट ने कहा था कि प्रोजेक्ट की लागत वसूलने के बाद आगे भी वसूली जारी रखना गलत है।