लखनऊ की सड़कों पर अब नहीं चलेंगी पुरानी पेट्रोल-डीजल की गाड़ियां

नई दिल्ली ( 14 नवंबर ): उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ सबसे प्रदूषित शहरों में शुमार है। अब लखनऊ के डीएम ने अब साफ कर दिया है कि जल्द ही शहर में 15 साल पुरानी पेट्रोल और 10 साल पुरानी सभी डीजल गाड़ियों पर रोक लगाई जाएगी। इससे पहले 15 दिसंबर तक जागरूकता अभियान चलाया जाएगा ताकि लोग अपनी गाड़ियों को खुद ही हटा दें।

डीएम कौशल राज शर्मा ने मंगलवार को पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के साथ आरटीओ, पीडब्ल्यूडी, नगर निगम और लखनऊ मेट्रो के अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में शहर में एयर पॉल्यूशन के लिए जिम्मेदार विभागों को चेताया गया। साफ कर दिया गया कि किसी भी हाल में शहर की आबोहवा को जहरीला बनाने वाले फैक्टर्स बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि महीने भर में एयर इंडेक्स की गंभीरता से मॉनीटरिंग की जानी है। डीएम लखनऊ ने साफ कर दिया कि जिनके पास 15 साल पुराने पेट्रोल और 10 साल पुरानी डीजल गाड़ियां हैं। ऐसे गाड़ी मालिक माइंड मेकअप कर लें क्योंकि आने वाले वक्त में उन्हें अपनी पुरानी गाड़ी सड़क से हटानी ही होगी।