कानपुर: न्यायिक मजिस्ट्रेट की संदिग्ध मौत

नई दिल्ली(9 अक्टूबर): जिला एव सत्र न्यायालय कानपुर देहात में ज्युडीशियल मजिस्ट्रेट पद पर कार्यरत महिला का शव उनके घर में पंखे से लटका हुआ मिलने से हड़कंप मच गया। मौके पर पहुची पुलिस ने शव को पंखे से नीचे उतारा लेकिन जब वह किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी तो फोरेंसिक टीम को जानकारी दी ।

फॉरेंसिक की जांच में महिला मजिस्ट्रेट के दोनों कलाइयों पर धारदार वस्तु से काटने के निशान मिलने पर पुलिस टीम भी इस रहस्मय गुत्थी में उलझ गयी कि यह ह्त्या है या आत्महत्या। फिलहाल पुलिस ने शव का पंचनामा करके पोस्टमार्टम भेज दिया है रिपोर्ट आने के बाद ही कारणों का पता चलेगा की यह ह्त्या है या आत्महत्या। 

मूलरूप से झांसी की रहने वाली प्रतिभा गौतम का 2013 में पीसीएस जे में सलेक्सन हुआ था और इनकी पहली पोस्टिंग कानपुर देहात में जिला एव सत्र न्यायालय में बतौर ज्यूडीशियल मजिस्ट्रेट के पद पर तैनाती हुयी थी । 7 महीने पहले प्रतिभा की शादी दिल्ली के रहने वाले अभिषेक गौतम से हुयी थी । अभिषेक दिल्ली कोर्ट में प्रेक्टिस करते है । प्रतिभा के पति अभिषेक सुबह जब घर पहुचे तो दरवाजा अंदर से बंद था । अभिषेक जब दरवाजा तोड़कर अंदर पहुचे तो उनके होश उड़ गये उनकी पत्नी प्रतिभा पंखे से लटका रही थी । अभिषेक ने शव को पंखे से नीचे उतारने के बाद पुलिस को सूचना दी । मौके पर पहुची पुलिस वा फोरेंसिक टीम की जांच में सामने आया है कि महिला के हाथो में कट के निशान पाये गये है । बेटी की मौत की सूचना पर कानपुर पहुचे उनके पिता राजाराम ने आरोप लगाया है की बेटी के साथ कोई अन्याय हुआ है । राजाराम का कहना है की मेरी बेटी बहुत बहादुर थी वह आत्महत्या नहीं कर सकती ।