नौ करोड़ साल पुराने डायनासोर के अंडे से मसाले पीसती हैं गुजरात की महिलाएं !

नई दिल्ली (29 अक्टूबर): गुजरात में बालासिनोर रिसायत की राजकुमारी आलिया सुल्ताना बाबी एक गांव में घूम रही थीं। उन्होंने देखा कि एक महिला सिलबट्टे पर मसाले पीस रही है। महिला एक पत्थर से पिसाई कर रही थी। और वह पत्थर देखने में शानदार और अद्भुत था। राजकुमारी समझ गईं कि यह पत्थर कोई सामान्य चीज नहीं है। उन्होंने महिला से वह पत्थर ले लिया। आज वह पत्थर उनके संग्रह की सबसे नायाब और कीमती चीज है। वह पत्थर डायनासोर का अंडा है। बाबी बताती हैं, 'उस महिला को नहीं पता था कि उसके हाथ में डायनासोर का अंडा है।  बालासिनोर को भारत का जुरासिक पार्क भी कहा जाता है क्योंकि यहां डायनासोर के काफी अवशेष मिले हैं। 42 साल की राजुकमारी बाबी के संग्रह में दर्जनों अवशेष हैं। इसलिए लोग उन्हें डायनासोर प्रिंसेस भी कहते हैं। जो अंडा बाबी के पास है उसकी आयु साढ़े छह करोड़ साल से साढ़े नौ करोड़ साल के बीच कुछ हो सकती है। यह टिटैनोसोरस प्रजाति का अवशेष है। अब यह एक लाल जूलरी बॉक्स में सफेद सिल्क में लिपटा हुआ रखा है।