#BUDGET2017: डि‍जि‍टल ट्रांजैक्शन होगा सस्ता, मोबाइल खरीदना महंगा...

नई दिल्ली ( 1 फरवरी ): वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट 2017-18 में एक्‍साइज ड्यूटी में बदलाव किया है जिसकी वजह से कुछ प्रोडक्‍ट्स की मैन्‍युफैक्‍चरिंग की कीमतें महंगी होगीं। वहीं, कुछ ऐसे प्रोडक्‍ट्स भी हैं जि‍नके दाम आने वाले दि‍नों में कम हो सकते हैं। इसके अलावा, बजट में लोकल मेन्‍युफैक्‍चरिंग को बूस्‍ट करने के लि‍ए कस्‍टम ड्यूटी में भी बदलाव कि‍ए गए हैं। सरकार के इस कदम से डि‍जि‍टल ट्रांजैक्‍शन सस्‍ता होगा जबकि मोबाइल की कीमत बढ़ जाएगी।

- कैशलेस ट्रांजैक्शन को प्रमोट करने के लि‍ए सरकार ने एम-पीओएस के लि‍ए पीओएस कार्ड रीडर के मैन्‍युफैक्‍चरिंग पार्ट्स पर लगने वाली ड्यूटी को खत्‍म कर दि‍या है। ऐसे में आने वाले दि‍नों में क्रेडि‍ट कार्ड-डेबि‍ट कार्ड से होने वाले ट्रांजैक्‍शन के चार्ज कम हो सकते हैं। सरकार ने ऑनलाइन रेलवे टिकट बुकिंग कराना (रेलवे ई-टिकट), घरों में यूज किए जाने वाले RO मेम्ब्रेन एलिमेंट्स, एलएनजी और सोलर पैनल्स में यूज किए जाने वाले सोलर टैम्पर्ड ग्लास भी सस्ता कर दिया है।

लेकिन सरकार ने मोबाइल फोन की मेन्‍युफैक्‍चरिंग में यूज होने वाले प्रिंटेड सर्कि‍ट बोर्ड पर लगने वाली ड्यूटी (एसएडी) को 2% कर दि‍या है जबकि‍ पहले इस पर कोई ड्यूटी नहीं लगती थी। ऐसे में आने वाले दि‍नों में मोबाइल फोन के दाम बढ़ सकते हैं।  

सि‍गरेट से एलईडी लाइट तक महंगे...

बजट में सि‍गरेट और दूसरे तंबाकू प्रोडक्‍ट्स की ड्यूटी को बढ़ा दि‍या गया है। जिससे ये महंगे हो जाएंगे। सि‍गरेट और तंबाकू पर लगने वाली ड्यूटी को बढ़ाकर (12.5% या 4006 रुपए प्रति‍ हजार या इसमें जो ज्‍यादा हो) दिया गया है। इससे पहले यह रेट 3775 रुपए प्रति‍ हजार था। इसके अलावा पान मसाला पर लगने वाली एक्‍साइज ड्यूटी को भी 6%  से बढ़ाकर 9% कर दि‍या गया है।

एलईडी लाइट और एलईडी लैम्‍प की मेन्‍युफैक्‍चरिंग में यूज होने वाले पार्ट्स पर लगने वाली एक्‍साइट ड्यूटी को 6% कर दि‍या गया है। ऐसे में एलईडी लाइट्स में दाम में इजाफा हो सकता है।

विदेशी काजू खाना भी होगा महंगा

सरकार ने डोमेस्टि‍क इंडस्‍ट्री को बचाने के लि‍ए बजट में काजू (सॉल्‍टेड और रोस्‍टेड दोनों) पर लगने वाली बेसि‍क कस्‍टम ड्यूटी को 30% से बढ़ाकर 40% कर दि‍या गया है। ऐसे में इसके दाम भी बढ़ सकते हैं। इनके अलावा चांदी के सिक्के-मेडल, एल्युमिनियम ओर्स एंड कॉन्सनट्रेट्स और ऑप्टिकल फाइबर बनाने में यूज किए जाने वाले पॉलीमर कोटेड MS टेप्स भी महंगे कर दिए गए हैं।