अब जेब में नहीं रखने पड़ेंगे नोट, मोदी सरकार लाने जा रही है डिजिटल करेंसी

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (5 दिसंबर): नोटबंदी के बाद देश में डिजिटल लेन देन में भारी इजाफा हुआ है। बड़ी तादाद में लोग अब अपने लेन-देन डिजिटल माध्यम से कर रहे हैं। इसी कड़ी में एक और कदम आगे बढ़ाते हुए मोदी सरकार देश में डिजिटल करेंसी लाने की तैयारी में है। इस सिलसिले में आर्थिक मामलों की सचिव की अगुवाई में बनी समिति ने अपनी ड्राफ्ट रिपोर्ट सरकार को सौंप दी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार को डिजिटल नोट लाने के बारे में गंभीरता से सोचना चाहिए। इसमें कहा गया है कि बिटकॉइन जैसी वर्चुअल करंसी से निपटने के लिए सरकार को डिजिटल नोट जारी करनी चाहिए।बताया जा रहा है कि डिजिटल करेंसी बिल्कुल कागज के नोट की तरह काम करेगी। इस पर ब्याज भी मिलेगा। डिजिटल करेंसी आने से कई बदलाव हो सकते हैं। मॉनिटरी पॉलिसी से लेकर कालाधन को ट्रैक करने में भी मदद मिलेगी। मोबाइल वॉलेट में रहेगा डिजिटल नोट- प्रस्ताव के मुताबिक, कागज के नोट की तर्ज पर डिजिटल नोट जारी किया जा सकता है। डिजिटल नोट को आप अपने मोबाइल के वॉलेट में रख सकते हैं या फिर अपने अकाउंट में रख सकते हैं। डिजिटल नोट के सर्कुलेशन की गोपनीयता रखी जाएगी। कागज के नोट की तरह डिजिटल नोट के सर्कुलेशन पर RBI का कंट्रोल होगा।जानकारी के मुताबिक दो तरह के डिजिटल नोट जारी किए जा सकते हैं। एक डिजिटल नोट, जिस पर कोई ब्याज न मिले और उसकी कीमत हमेशा उतनी ही रहे। दूसरा डिजिटल नोट जिस पर ब्याज मिले। यानी जो डिजिटल नोट जिसके पास जितना समय रहे उस पर ब्याज दिया जाए। ब्याज वाले डिजिटल नोट का इस्तेमाल सरकार बॉन्ड जैसे इंस्ट्रूमेट के विकल्प के तौर पर किया जा सकता है। कमिटी का कहना है कि डिजिटल नोट को जारी करने लिए क्वाइन एक्ट और आरबीआई एक्ट में जरूरी बदलाव करने होंगे।