एक बार फिर चला धोनी की कप्तानी का जादू, ब्रॉवो को दिए इस 'ज्ञान' ने जितवाया मैच

नई दिल्ली(22 अप्रैल): हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनैशनल स्टेडियम में खेले गए बेहद रोमांचक मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 4 रन से हरा दिया। हालांकि एक समय ऐसा लग रहा था कि चेन्नई आसानी से मैच जीत जाएगी लेकिन मिडिल ऑर्डर में केन विलियिम्सन और यूसुफ पठान ने जिस तरह बल्लेबाजी की, उससे चेन्नई के लिए जीत आसान नहीं रही।  

अंत के ओवरों में राशिद खान ने भी पूरा जोर लगाया लेकिन वह अपनी टीम को जितवा नहीं सके। राशिद खान महज तीन गेंद में 16 रन बनाकर अपनी टीम को एक गेंद में पांच रन तक ले गए थे लेकिन आखिरी गेंद पर वह केवल एक ही रन बना पाए। उसका बड़ा कारण था बॉलिंग कर रहे ड्वेन ब्रावो को कप्तान एमएस धोनी द्वारा मंत्र देना।

दरअसल जीत के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने खुलासा किया कि किस तरह आखिरी ओवर में उन्होंने ड्वेन ब्रावो के साथ रणनीति बनाई और उसमें सफल भी रहे। धोनी ने कहा कि वैसे तो ड्वेन ब्रावो स्लॉग ओवर्स में दुनिया के शानदार बॉलर हैं। लेकिन कभी-कभी उन्हें एडवाइज की जरूरत पड़ जाती है। मैच दौरान भी कुछ ऐसा ही हुआ। ब्रावो अपना बेस्ट दे रहे थे। 

धोनी ने कहा- मुझे लगा कि कहीं ब्रावो प्रैशर में बॉल पर नियंत्रण न खो दे इसलिए मैं उनके पास जाकर खड़ा हो गया। वह जो बॉल फेंकने वाले थे उसको लेकर मैंने उनसे बातचीत की थी। बताया कि इस वक्त यह गेंद फेंकने नुकसानदायक हो सकती है क्योंकि विकेट बेहद आसान है। ऊपर से बल्लेबाजी कर रहे राशिद पूरी कोशिश करेंगे बढ़ी शॉट लगाने की। ऐसे में संभावनाओं को भी खत्म करने के लिए अच्छी गेंद डालनी होगी। ब्रावो ने ऐसा किया भी। हम मैच जीत गए।