विराट के लिए हर दांव लगा रहे हैं धोनी...

नई दिल्ली (10 मई): 1 जून से चैंपियंस ट्रॉफी का आगाज हो रहा है। विराट का पहला इम्तिहान 4 जून को सबसे बड़े दुश्मन पाकिस्तान से है। पहली बार विराट कोहली पाकिस्तान के खिलाफ टीम की कप्तानी करेंगे। ऐसे में धोनी विराट किसी भी फ्रंट पर अकेले नहीं छोड़ना चाहते।


सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक टीम सेलेक्शन में इस बार विराट से ज्यादा धोनी की बात मानी गई। दरअसल पहली बार किसी टूर्नामेंट के लिए एक नहीं, दो नहीं बल्कि पूरे पांच खिलाड़ी को स्टैंडबाय रखा गया है। हम आपको बता दें कि सुरेश रैना, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, कुलदीप यादव और शार्दुल ठाकुर को चैंपियंस ट्रॉफी के लिए तैयार रहने को कहा गया है। सेलेक्टर्स ने ये फैसला धोनी के कहने पर लिया है।


धोनी ने इसके पीछे ये दलील दी कि टीम इंडिया के खिलाड़ी लगातार क्रिकेट खेल रहे हैं। इसलिए इंग्लैंड की कंडीशंस को देखते हुए कुछ प्लेयर्स को स्टैंडबाय के तौर पर रखा जाना चाहिए ताकि किसी भी खिलाड़ी के चोटिल होने पर टीम इंडिया को इसका खामियाजा ना उठाना पड़े। इतना ही नहीं सेलेक्शन के 2 दिन बाद ही धोनी आईपीएल से ब्रेक लेकर सीधे देवड़ी माता का आर्शीवाद लेने रांची पहुंच गए। चैंपियंस ट्रॉफी में रवाना होने से पहले धोनी देवड़ी मां की पूजा कर रहे हैं।


हम आपको बता दें कि धोनी ने अपने क्रिकेट करियर के हर बड़े टूर्नामेंट से पहले देवड़ी मां का आर्शीवाद लेना नहीं भूलते हैं। धोनी इस बार टीम इंडिया की कप्तानी नहीं कर रहे हैं, लेकिन फिर भी धोनी जीत की मन्नत मांगने मां के पास पहुंचे। जाहिर है कि धोनी हर वो चीज कर रहे हैं जो वो बतौर कप्तान करते थे। भले ही टीम की अगुवाई विराट कर रहे हैं, लेकिन परछाई की तरह धोनी विराट के साथ खड़े हैं। वैसे भी ये साफ कर दिया गया है कि धोनी चैंपियंस ट्रॉफी में विराट का मार्गदर्शन करेंगे।