19 जून को धोनी करेंगे बड़ा फैसला...

नई दिल्ली (14 मार्च): धोनी के बचपन के कोच केशव बनर्जी का मानना है कि जून 2017 में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी भारत के इस सबसे सफल क्रिकेट कप्तान के भविष्य का फैसला करेगी। धोनी के बचपन के कोच को लगाता है कि अगर वह इंग्लैंड में होने वाले चैंपियंस ट्रॉफी में सफल होते हैं तो फिर धोनी 2019 वर्ल्ड कप में खेल सकते है।

हम आपको बता दें कि इस साल 1 जून से 18 जून के बीच चैंपियंस ट्रॉफी इंग्लैंड में होना है। टीम इंडिया ने धोनी की कप्तानी में साल 2013 के चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा किया था। चैंपियंस ट्रॉफी से पहले खुद को लय में रखने के लिए धोनी घरेलू एकदिवसीय टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी में खेल रहे हैं।

साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहकर सभी को हैरान करने वाले धोनी ने जनवरी में भारत की सीमित ओवरों की कप्तानी भी छोड़ दी थी। कप्तानी छोड़ने के बाद धोनी ने इंग्लैंड के खिलाफ 3 मैचों की वनडे सीरीज में 55 की औसत से 165 रन बनाए थे 1 शतक के साथ। जिसके बाद ये कहा जा रहा है कि कप्तानी छोड़ने के बाद धोनी खुलकर खेल रहे हैं। धोनी अब बल्ले से विराट के लिए एक वरदान साबित होने वाले हैं।

धोनी के बचपन के कोच ने उनको लेकर जिस तरह का बयान दिया है उससे तो यही लगता है कि ये धोनी के कोच की निजी राय होगी। धोनी को उनके फैन्स बल्कि तमाम क्रिकेट पंडित भी खेलते देखना चाहते हैं। धोनी के अंदर अभी भी काफी क्रिकेट बचा हुआ है, जिसका सबसे ज्यादा फायदा विराट कोहली को होगा।