धर्मशाला में मिली हार के बाद ये बोले कप्तान रोहित शर्मा

नई दिल्ली(10 दिसंबर): हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला मैदान की तेज गेंदबाजों के लिए मददगार पिच पर भारतीय बल्लेबाजी बुरी तरह लड़खड़ा गई। मैच के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि श्रीलंका के खिलाफ यह प्रदर्शन मेजबान टीम के लिए आंखें खोलने वाला है। 

-रोहित ने श्रीलंका के खिलाफ मैच में मिली सात विकेट की हार के बाद कहा, 'हमारी बल्लेबाजी अच्छी नहीं थी। अगर स्कोरबोर्ड पर 70-80 रन और होते तो हालात अलग होते। यह मैच हमारे लिए आंखें खोलने वाला है।' 

-भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ धर्मशाला में खेले गए सीरीज के पहले मैच में सिर्फ 112 रनों पर सिमट गई श्री लंका ने जीत का लक्ष्य 20.4 ओवर में सिर्फ तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। भारत की ओर से पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी संघर्ष करने वाले इकलौते बल्लेबाज रहे। उन्होंने 65 रनों की पारी खेली। 

-रोहित ने कहा कि वह धोनी के प्रदर्शन से हैरान नहीं हैं। उन्होंने कहा, 'धोनी को अच्छी तरह पता है कि इन परिस्थितियों में कैसा प्रदर्शन करना है। अगर कोई उनके साथ बल्लेबाजी करता रहता तो बहुत अंतर पड़ता। जब हम गेंदबाजी कर रहे थे तब भी पिच से मदद मिल रही थी लेकिन 112 का स्कोर काफी नहीं था। 

-विराट कोहली की गैर-मौजूदगी में टीम की कप्तानी के बारे में रोहित के अनुभव के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, 'यह (मैच हारना) अच्छा नहीं रहा। कोई भी ऐसा नहीं चाहता। हमें बाकी बचे दो मैचों में वापसी के बारे में सोचना होगा।'