DGMO रणबीर सिंह ने कहा- सेना अपने हिसाब से देगी पाक को जवाब

अमित कुमार, नई दिल्ली (19 सितंबर): पाकिस्तान की शर्मनाक साजिश से पूरा हिंदुस्तान गुस्से में है। चारों ओर पाकिस्तान के खिलाफ डायरेक्ट एक्शन की मांग हो रही है। इस बीच डॉयरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशन लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने साफ-साफ कहा कि हम जबावी कार्रवाई के लिए स्वतंत्र हैं और अपने हिसाब से जवाब देंगे।

गली-चौहारे से लेकर सत्ता के गलियाओं तक में पाकिस्तान के खिलाफ डॉयरेक्ट एक्शन की मांग हो रही है। धर्म गुरु और योग गुरु भी आतंकी भेजने वाले पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग कर रहे हैं। उरी में पाकिस्तान के पाप का सबूत पूरी दुनिया के सामने है। इस बीच डॉयरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशन लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि हम जबावी कार्रवाई के लिए स्वतंत्र हैं और अपने हिसाब से जवाब देंगे।

पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए आज दिल्ली जमकर मंथन हुआ। प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, रक्षा मंत्री, वित्तमंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, सेना प्रमुख के साथ सुरक्षा से जुड़े कई आला अधिकारी इसमें शामिल हुए। पीएम के घर बुलाई गई ये बैठक एक घंटे चालीस मिनट तक चली। इस बैठक में पाक पर नकेल कसने के लिए कई मुद्दों पर चर्चा हुई।

सूत्रों के मुताबिक...

पाकिस्तान को अलग-थलग करने पर विचार हुआ। ज़रूरत पड़ने पर अंतर्राष्ट्रीय मंच पर पाक के खिलाफ सबूत देने की बात हुई। पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित करने की मांग का मुद्दा भी उठा। आर्थिक नाकेबंदी पर भी विचार हुआ। हवाई रास्ता बंद करने पर भी बात हुई। सभी राजनीतिक रिश्ते खत्म करने पर मंथन हुआ। राजदूत को वापस बुलाने पर भी हुई चर्चा।

7RCR से पहले आतंकी हमले पर बॉर्डर एरिया में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के लिए गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर और देश के आला सुरक्षा अधिकारियों ने बैठक की। सरकार पाकिस्तान से निपटने के हर ऑप्शन पर विचार कर रही है। मोदी सरकार जल्दबाजी में कोई फैसला नहीं करना चाहती है। इसीलिए किसी भी एक्शन से पहले सरकार उसके रिक्शन का पूरा हिसाब लगा रही है।