महाराष्ट्र: केंद्रीय कार्यालयों में सिर्फ हिंदी या अंग्रेजी नहीं, अब मराठी भाषा का भी होगा प्रयोग

नई दिल्ली ( 6 दिसंबर ): क्षेत्रीय भाषा को मजबूती देने के लिए भाजपा शासित राज्य में लगातार कवायद कर रहे हैं। उदाहरण के तौर पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विदेश में भारत की ओर से प्रतिनिधित्व करते वक्त ज्यादातर हिंदी भाषा का इस्तेमाल करते हैं। इसी तर्ज पर महाराष्ट्र में भी एक अहम निर्णय लिया गया है। 

महाराष्ट्र सरकार ने एक अहम निर्णय लेते हुए केंद्र सरकार के कार्यालयों में मराठी भाषा के इस्तेमाल को लेकर अधिसूचना जारी की है। अधिसूचना जारी किये जाने के बाद अब बैंकिंग, पोस्ट ऑफिस, गैस, रेल सेवा, बीमा कार्यालयों आदि संस्थानों में हिंदी और अंग्रेजी के साथ-साथ मराठी भाषा का इस्तेमाल किया जा सकेगा।

अधिसूचना में महाराष्ट्र सरकार की ओर से कहा गया है कि मराठी भाषा राज्य की आधिकारिक भाषा है और आदेश में केंद्र के त्रि-भाषीय फॉर्म्युले का प्रयोग करते हुए यह निर्देश दिए गए हैं। अधिसूचना के जरिए सीधे तौर पर निर्देशित किया गया है कि केंद्र सरकार के कार्यालयों और एजेंसियों में हिंदी और अंग्रेजी भाषा के साथ-साथ अंग्रेजी भाषा का भी प्रयोग किया जाए।