देवेंद्र फडणवीस ने मराठा आरक्षण के दिए संकेत, कहा- 1 दिसंबर को जश्न मनाने के लिए तैयार रहे मराठा समाज

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 15 नवंबर ): महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मराठा आरक्षण देने के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि 15 दिनों में मराठा समाज को आरक्षण मिलेगा। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि मराठा समाज 1 दिसंबर को जश्न मनाने के लिए तैयार रहे। बता दें कि पिछले कई सालों से मराठा समाज आरक्षण की मांग कर रहा है।

महाराष्ट्र पिछड़ा आयोग ने अपनी रिपोर्ट दे दी है पिछड़ा आयोग ने अपनी रिपोर्ट में मराठों को राज्य में पिछड़ा माना है। इस रिपोर्ट से मराठों को आरक्षण मिलने का रास्ता साफ हो गया है। पिछड़ा आयोग की रिपोर्ट में मराठा समुदाय को सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक आधार पर पिछड़ा माना गया है। रिपोर्ट के बाद मराठों को राज्य में शैक्षणिक संस्थानों और सरकारी नौकरी में आरक्षण मिलने का रास्ता साफ हो गया है।

पिछड़ा आयोग के सचिव ने इस रिपोर्ट को गुरुवार को राज्य के मुख्य सचिव डीके जैन को सौंप दिया। मराठा आरक्षण मिले या नहीं इस पर सभी जाति के लोगों की राय ली गई है और सभी ने आरक्षण देने की बात कही है। मराठा समाज के 98 फीसदी लोगों ने आरक्षण को जरूरी बताया है। 89.56 कुणबी मराठाओं ने आरक्षण मिलने की वकालत की है (ये समाज ओबीसी में शामिल हैं)।

तो वहीं करीब 91 फीसदी ओबीसी मराठा आरक्षण के पक्ष में थे। करीब 90 फीसदी अन्य पिछड़ी जाति के लोगों ने भी आरक्षण की वकालत की है। 61.78 फीसदी लोगों ने मराठा समाज को शिक्षा और नौकरी में आरक्षण की जरूरत बताई है।  

मराठा समाज की महाराष्ट्र में जनसंख्या करीब 30 से 32 फीसदी है। आर्थिक पिछड़ेपन के लिए 25 फीसदी जनसंख्या और समाज के 37 फीसदी लोग गरीबी रेखा के नीचे पाए गए हैं।