नोटबंदी के वक्त बैंकों में जमा कराया है कैश तो देना होगा टैक्स

नई दिल्‍ली (13 जुलाई): नोटबंदी के दौरान बैंकों में कैश जमा कराने वालों पर मोदी सरकार ने शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है। मोदी सरकार अब लोगों से जमा कराए गए कैश का सबूत मांगने वाली है और यह पूछेगी कि उनके पास यह कैश कहा से आया। अगर लोग इसका सोर्स नहीं बता पाएं तो उनको इस पैसे पर इनकम टैक्‍स देना होगा। यहीं नहीं अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट आपके खिलाफ एक्‍शन ले सकता।


इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने इस बार रिटर्न दाखिल करने वाले लोगों से नोटबंदी के दौरान किए गए कैश डिपॉजिट की भी डिटेल मांगी है। अगर आप इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट को इस पैसे का सोर्स बता पाए और यह साबित कर पाए कि इस पर टैक्स दिया जा चुका है तो ठीक है, नहीं तो यह पैसा इनकम में दिखाना होगा और इस पर टैक्‍स अदा करना होगा।


वहीं अगर कोई शख्स आईटी रिटर्न में नोटबंदी के दौरान जमा कैश नहीं दिखाता है तो आईटी डिपार्टमेंट अपने रिकॉर्ड से मिलान करके पता लगा लेगा कि संबंधित शख्स ने जानकारी छिपाई है। ऐसे में रिटर्न फाइल करने वाले पर कार्रवाई होगी।