वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दी सफाई, कहा- एक बार में पुराने नोट जमा करने पर नहीं होगा कोई सवाल

नई दिल्ली ( 19 दिसंबर ): अरुण जेटनी ने कहा कि देश में 2 करोड़ सालाना टर्नओवर से कम वाले जितने छोटे ट्रेडर्स, व्यापारी हैं, उनको राहत की घोषणा की गई है 500/1,000 के पुराने नोटों को एक ही बार में जमा करें। उन्होंने कहा कि रोज बैंक जाने वाले लोगों को रोकने के लिए यह अधिसूचना जारी की गई है।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने साफ किया कि अगर पुराने नोट एक बार में जमा हो जाएंगे तो कोई सवाल नहीं होगा, लेकिन बार-बार पैसे जमा करने पर जांच की जा सकती है।

आपको बता दें कि बंद हुए पुराने नोटों में 5000 रुपए से ज्यादा का अमाउंट 30 दिसंबर तक एक खाते में सिर्फ एक बार ही जमा कराने लिए कहा गया है।  साथ ही कहा गया था कि जिसके खाते में पैसा जमा हो रहा है, उसे बैंक के 2 अफसरों को यह भी बताना होगा कि यह रकम अब तक जमा क्यों नहीं की गई थी? बैंक उसके जवाब से संतुष्ट होगा, तभी रकम जमा की जाएगी। छोटे-छोटे अमाउंट में भी एक खाते में 5000 से ज्यादा के पुराने नोाट नहीं जमा करा सकेंगे। इसी लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सफाई दी है।

बता दें कि ये बंदिशें नई नोटों के लिए नहीं है। नए नोटों में पैसा जमा कराने की कोई लिमिट नहीं रखी गई है।