हर 15 दिन पर मरीजों को देखने डासना जेल में जाएंगे तलवार दंपती

नई दिल्ली ( 15 अक्टूबर ): आरुषि और हेमराज हत्याकांड मामले में इलहाबाद हाईकोर्ट ने पिछले दिनों डाॅक्टर राजेश और नूपुर तलवार को बरी कर दिया। अब तलावर दंपत्ति हर 15 दिनों के अंतर में गाजियाबाद की डासना जेल जाकर उन मरीजों को देखेंगे जो दांत की समस्या से पीड़ित हैं। तलवार दंपती पेशे से दंत चिकित्सक हैं। ये दोनों नवंबर 2013 में निचली अदालत द्वारा दोषी करार दिए जाने के बाद से जेल में बंद हैं। इलहाबाद हाईकोर्ट ने पिछले दिनों दोनों को बरी कर दिया। वो सोमवार को डासना जेल से बाहर आ सकते हैं।

डासना जेल के एक अधिकारी के मुताबिक कि जेल में रहने के दौरान राजेश और नूपुर तलवार ने कारागार अस्पताल में तकरीबन बंद हो चुके दंत चिकित्सा विभाग को फिर से खड़ा करने का काम किया है। जेल में चिकित्सक सुनील त्यागी ने बताया, हम इसको लेकर चिंतित थे कि तलवार दंपती की रिहाई के बाद हमारे दंत चिकित्सा विभाग का क्या होगा। तलवार दंपती ने भरोसा दिया है कि वे हर 15 दिनों पर यहां आएंगे और दांत की समस्या का सामना कर रहे कैदियों को देखेंगे। 

त्यागी ने कहा कि तलवार दंपती ने कैदियों के अलावा जेल के कर्मचारियों, पुलिस अधिकारियों और उनके बच्चों का भी उपचार किया था। उन्होंने कहा, तलवार दंपती ने यहां आने के बाद सैकड़ों मरीजों का उपचार किया। ये मरीज उनके उपचार से बहुत खुश हैं।