2000 का नोट वायरल हुआ तो तय तारीख से पहले ही करना पड़ा नोटबंदी का ऐलान

नई दिल्ली(19 नवंबर): केंद्र सरकार की योजना 500 और 1000 के नोट 17 नवंबर से बंद करने की थी। लेकिन 2000 रुपए का नोट सोशल मीडिया पर वायरल होने के चलते आनन-फानन में 8 नवंबर को ही यह ऐलान करना पड़ा। 

- आरबीआई की तरफ से बैंकों को जारी लेटर तो कम से कम यही संकेत दे रहे हैं। 

- दरअसल, आरबीआई ने बैंकों को एटीएम में 100 रुपए के नोटों के कैसेट बढ़ाने को कहा था। इसके लिए 5 मई और 2 नवंबर को लेटर जारी किए थे। 

- इसके मुताबिक बैंकों को कुल एटीएम के 10% यानी 20 हजार मशीनों में सिर्फ 100-100 रुपए के नोट निकालने की व्यवस्था करनी थी।

- बैंकों को 15 दिन की मोहलत देते हुए यह बंदोबस्त 17 नवंबर तक पूरा करने को कहा गया था। 

- अगर यह पूरा हो जाता तो एकाएक कैश की किल्लत नहीं होती। लेकिन यह व्यवस्था पूरी होने से पहले ही 2 हजार का नोट वायरल हो गया। 

- काला धन रखने वाले चौकन्ने न हो जाएं, इसलिए सरकार ने तय तारीख से पहले ही 1000 और 500 के नोट बंद कर दिए। 

- आरबीआई ने अपनी इस सारी कवायद को ऑपरेशन 'क्लीन नोट पॉलिसी' का नाम दिया था।