नोटबंदी: आयकर विभाग ने 1.16 लाख लोगों को भेजा नोटिस

नई दिल्ली (28 नवंबर): नोटबंदी के दौरान बैंकों में 25 लाख या उससे अधिक रुपये जमा कराने वालों के खिलाफ आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है। CBDT के चेयरमैन सुशील चंद्रा के मुताबिक आयकर विभाग ने नोटबंदी के दौरान अपने खाते में 25 लाख रुपये से ज्यादा जमा कराने वाले 1.16 लाख लोगों को नोटिस भेजा है। 

साथ ही उन्होंने कहा कि ऐसे लोग जिन्होंने अपना आयकर रिटर्न दाखिल कर दिया है, लेकिन उन्होंने बैंक खातों में बड़ी रकम जमा कराई है, उनकी भी जांच चल रही है।  कर विभाग ने नोटबंदी के बाद 500 और 1,000 के बंद किये गये ढाई लाख रुपये से अधिक के नोट जमा कराने वाले लोगों की पड़ताल की है।            इनमें से ऐसे लोगों और कंपनियों को अलग-अलग किया गया है जिन्होंने अभी तक अपना आयकर रिटर्न नहीं जमा किया है। इन लोगों को दो श्रेणियों 25 लाख रुपये से अधिक जमा कराने वाले और 10 से 25 लाख रुपये तक जमा कराने वालों के बीच बांटा गया है।             चंद्रा ने कहा कि 'नोटबंदी के बाद बंद नोटों में 25 लाख रुपये अथवा इससे अधिक जमा कराने वाले लोगों की संख्या 1.16 लाख है। इन लोगों ने अभी तक अपना रिटर्न जमा नहीं कराया है। उन्होंने बताया कि ऐसे लोगों और कंपनियों को 30 दिन के भीतर अपना आयकर रिटर्न जमा कराने को कहा गया है।            साथ ही उन्होंने कहा कि 2.4 लाख लोग ऐसे हैं जिन्होंने बैंक खातों में 10 से 25 लाख रुपये जमा कराए हैं, लेकिन उन्होंने अभी तक उनका रिटर्न दाखिल नहीं किया है। उन्होंने कहा कि इन लोगों को दूसरे चरण में नोटिस भेजा जाएगा।