नोटबंदी का असर, हवाला कारोबारी ने की आत्महत्या

कराची (5 दिसंबर): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब से 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बंद करने का ऐलान किया है, तभी से देश में काला धन रखने वाले लोगों में हड़कंप मचा हुआ है। अब नोटबंदी का असर पाकिस्तान में भी देखने को मिला है। पाकिस्तान में बड़े हवाला कारोबारी ने आत्महत्या ही कर ली है।

जानकारी मिली है कि जावेद खानानी कारोबार को कराची से ऑपरेट किया करता था। उसने कराची की मुहम्मद अली सोसाइटी के साइमा टॉवर्स की 8वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। दरअसल, यइ ईमारत अभी बन रही है और जावेद यहां पर ऑब्ज़र्वेशन के लिए आया करता था। इस तरह के हवाला कारोबारी के आत्महत्या कर लिए जाने से पाकिस्तान में हलचल मची है।

हवाला कारोबारी द्वारा आत्महत्या का कदम उठाने की पुष्टि लोकप्रिय विचारक तारिक फतह ने ट्विट कर की है। उन्होंने हैश टैग के साथ इंडियाज़ डिमोनेटाईज़ेशन ट्रिगर का प्रयोग किया है। इस दौरान उन्होंने लिखा है कि मनी लॉन्ड्रिंग किंग जावेद खानानी ने कराची में आत्महत्या कर ली है। पाकिस्तान से मिली जानकारी के अनुसार भारत में हुई नोटबंदी से दाऊद इब्राहिम को जमकर नुकसान हुआ है।