सरकार का दावा, साल के अंत तक दूर हो जाएगी कैश की किल्लत

नई दिल्‍ली (2 दिसंबर): नोटबंदी के बाद केंद्र सरकार और RBI जल्द से जल्द कैश की किल्लत को दूर करने की चुनौती से जूझ रहा है। कैश की क्राइसिस को दूर करने के लिए नोट प्रिंटिंग प्रेस में दिन-रात काम हो रहा है। सेना का भी सहारा लिया जा रहा है।

वित्त मंत्री अरुण जेटली माने को इस साल के आखिरी यानी 31 दिसंबर तक देश में कैश की कमी दूर हो जाएगी। यानी अगले साल से आपको नगदी के लिए बैंक और एटीएम के बाहर लंबी-लंबी लाइन नहीं लगानी पड़ेगी।

नोटबंदी के 23वें दिन भी देशभर में नगदी की भारी किल्लत है। लोगों की सैलरी उनके खाते में आ गई है लेकिन वो उसे निकाल नहीं पा रहे हैं। नगदी की कमी के कारण किसानों का भी हाल बेहाल है।