वित्त मामलों पर संसद की स्थायी समिति की बैठक आज, नोटबंदी से अर्थव्यवस्था पर असर पर चर्चा


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 सितंबर): वित्त मामलों पर संसद की स्थायी समिति की आज बैठक होगी।  सूत्रों के मुताबिक इसमें आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल के साथ ही डिप्टी गवर्नर भी मौजूद रहेंगे। बताया जा रहा है कि आरबीआई के गवर्नर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली संसदीय समिति के सामने सरकार के साथ गतिरोध, अर्थव्यवस्था और नोटबंदी से संबंधित मुद्दों पर जानकारी देंगे। आरबीआई की तरफ से नोटबंदी के प्रभावों की जानकारी पेश की जाएगी। इसके अलावा बैठक में आरबीआई में प्रशासनिक सुधार के साथ ही एनपीए की समस्या से निपटने के लिए आईबीसी कानूनों के असर पर भी चर्चा होगी। वित्त मंत्रालय के आला अधिकारियों को भी इस बैठक में शामिल होने के लिए बुलाया गया है।
सरकार ने 8 नवंबर 2016 को 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद कर नए 500 और 2000 के नोट जारी करने की घोषणा की थी। समिति की बैठक के नोटिस के मुताबिक पटेल को 12 नवंबर को 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद करने और 'इसके प्रभावों' के बारे में समिति के सदस्यों को जानकारी देने के लिए तलब किया है। आरबीआई के गवर्नर अविनियमित जमा योजना विधेयक को प्रतिबंधित करने और संबंधित मुद्दों पर भी समिति को जानकारी देंगे।

वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली वित्त मामलों की स्थायी संसदीय समिति लगभग दो सालों से इस मुद्दे पर मंथन कर रही है। समिति में 31 सदस्य हैं। समिति की बैठक के नोटिस के मुताबिक पटेल को 12 नवंबर को 500 और 1000 रूपये के नोटों को बंद करने और ‘‘इसके प्रभावों’’ के बारे में समिति के सदस्यों को जानकारी देने के लिये तलब किया है। आरबीआई के गवर्नर अविनियमित जमा योजना विधेयक को प्रतिबंधित करने और संबंधित मुद्दों पर भी समिति को जानकारी देंगे।