नोटबंदी के बाद सोने में भारी गिरावट

नई दिल्ली (4 दिसंबर): नोटबंदी के बाद से सोने की कीमतों में गिरावट लगातार जारी है। पिछले तीन हफ्तों में गोल्ड 1900 रुपए टूट चुका है। वहीं, चांदी की कीमतों में 3700 रुपए की बड़ी गिरावट दर्ज की गई।

गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद आयकर विभाग ने ज्वैलर्स की दुकानों पर छापामारी की थी। इससे नाराज होकर ज्वैलर्स ने 16 दिनों अपनी दुकानें नहीं खोली। इससे मांग कमी आई और बाजार खुलते ही गोल्ड की कीमतों में जोरदार गिरावट देखने को मिली।

नोटबंदी से अब तक सोने पर एक नजर
- दिल्ली सर्राफा बाजार 16 दिनों के बाद दोबारा सोमवार को खुला।
- 99.9 और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की कीमत की क्रमश: 29,400 रुपए और 29,250 रुपए प्रति 10 ग्राम पर काफी कमजोर शुरुआत हुई।
- बाद में यह क्रमश: 29,450 रुपए और 29,300 रुपए प्रति 10 ग्राम तक सुधर गया।
- विदेशों में मजबूती के रूख और शादी विवाह के मौसम के कारण आभूषण विक्रेताओं की मांग में तेजी आने के कारण इसमें मामूली सुधार आया।
- सप्ताहांत में यह क्रमश: 29,250 रुपए और 29,100 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ।
- लेकिन पिछले सप्ताहांत के मुकाबले इसमें अभी भी 1,900 रुपए की पर्याप्त गिरावट दिखाई दी।
- गिन्नी के भाव भी 200 रुपए की गिरावट के साथ 24,400 रुपए प्रति आठ ग्राम पर बंद हुई।

चांदी की कीमतों में 3700 रुपए की गिरावट

- लिवाली और बिकवाली के बीच उतार चढ़ाव भरा कारोबार देखने को मिला।
- सप्ताहांत तें चांदी तैयार की कीमत 3,700 रुपए की गिरावट दर्शाती 41,000 रुपए प्रति किग्रा पर बंद हुई।
- चांदी साप्ताहिक डिलीवरी की कीमत 3,575 रुपए की गिरावट के साथ 40,325 रुपए प्रति किग्रा पर बंद हुई।
- चांदी सिक्कों के भाव 3,000 रुपए की गिरावट के साथ लिवाल 74,000 रुपए और बिकवाल 75,000 रुपए प्रति सैंकड़ा पर बंद हुए।