पेट्रोल पंपों होंगे पूरी तरह से डिजिटल


नई दिल्ली (1 दिसंबर): आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू की अध्‍यक्षता में केंद्र सरकार नोटबंदी के फैसले का आकलन करेगी। इस बैठक का सबसे बड़ा मकसद देश की अर्थव्यवस्था को कैशलेस बनाना है।

इसके अलावा कमेटी यह भी देखेगी कि देश में, खासतौर से ग्रामीण क्षेत्रों में डिजिटल भुगतान बढ़ाने के लिए क्‍या किया जा सकता है। न्यूज 24 को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पेट्रोल पंपों को भी पूरी तरह से डिजिटल पैमेंट के लिए तैयार किया जाएगा।

नीति आयोग के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सरकार डिजिटल पैमेंट को संभव बनाने के लिए हर पहलू पर ध्यान दे रही है...

- नोटबंदी के बाद डिजिटल पैमेंट को लेकर आज शाम 5.30 बजे पहली मीटिंग होगी। इसक‍ी अगुवाई चंद्र बाबू नायडु करेंगे।
- नंदन नीलकणी और अमिताभ कांत भी इस मीटिंग का हिस्सा होंगे।
- बैठक में डिजिटल पैमेंट को बढ़ावा देने के लिए जिले के अधिकारियों से बात हो चुकी है।
- शिक्षा मंत्री प्रकाश जावेड़कर IIM और IIT में 5000 छात्रों को संबोधित करेंगे।
- आज से बड़ा जन मुहिम शुरू की जाएगी तो लोगों को डिजिटल पैमेंट के बारे में जानकारी देगी।
- साझा सेवा केंद्र दुकानदारों को डिजिटल पैमेंट के बारे में समझाएंगे।
- एक दुकानदार को डिजिटल पैमेंट में शामिल करने पर 100 रुपये प्रति दुकानदार कमीशन के तौर पर दिया जाएगा।
- हर उद्योगों की कंपनी को सरकार की तरफ से डिजिटल पैमेंट से जुड़े एक हेल्प डेस्क बनाने का आदेश दिया गया है।
- पेट्रोल पंपों को भी पूरी तरह से डिजिटल पैमेंट के लिए तैयार किया जाएगा।