नोटबंदी से बर्बाद हुआ देश का सबसे बड़ा कपड़ा बाजार, 180 साल पुराना है इतिहास

मुंबई ( 20 दिसंबर ): नोटंबदी की वजह से मुंबई सबसे बड़ा और 180 साल पुराना कपड़ा बाजार बर्बाद हो चुका है। नोटबंदी को 40 दिन से भी अधिक हो गया, लेकिन व्यापारियों का हाल आज भी बुरा है। नोटबंदी से खड़े हुए कैश के संकट की मार से देश का सबसे बड़ा और पुराना कपड़ा बाजार भी अछुता नहीं रहा। हमेशा लोगों की चहल-पहल से गुलज़ार रहने वाला मुंबई का एमजे मार्केट आज वीरान है। हर महीने 1500 करोड़ का टर्न ओवर करने वाले बाजार में 70 फीसदी की गिरावट आई है।

मुंबई का एमजे मार्केट एशिया के सबसे पुराने और सबसे बड़े बाज़ारों में से एक है और इस बाजार में 737 दुकाने हैं। इस बाजार में टाटा,बिड़ला, अंबानी, वाडिया और तमाम बड़े कपड़ा व्यापारियों के शोरूम आज भी हैं। रोजाना 70 से 100 करोड़ का व्यापार करने वाले इस बाजार में नोटबंदी के बाद से 70 फीसदी व्यापार समाप्त हो चुका है।

यह बाजार 4 एकड़ में फैला है। इस बाजार का इतिहास इतना पुराना है ईस्ट इंडिया कम्पनी के पंजीकरण के बाद इसी का रजिस्ट्रेशन हुआ था। लेकिन आज इस बाजार में मायूसी छाई है।