दिल्ली को ट्रैफिक जाम से सलाना 6000000000000 का होता है नुकसान

दिल्ली  (5 फरवरी): ट्रैफिक जाम से दिल्ली को सलाना 60 हजार करोड़ का नुकसान होता है। मद्रास IIT की रिपोर्ट की माने तो राजधानी दिल्ली की सड़कों पर रेंगते ट्रैफिक से सालाना 60 हजार करोड़ रुपए की चपत लगती है। स्टडी के मुताबिक जाम में बर्बाद होने वाले ईंधन, प्रॉडक्टिविटी लॉस, वायु प्रदूषण और रोड दुर्घटनाओं में इतना नुकसान होता है।

राजधानी में बढ़ती गाड़ियों की संख्या को देखते हुए 2030 तक सालाना नुकसान 98 हजार करोड़ तक पहुंच जाएगा। स्टडी में बसों के लिए अलग लेन का सुझाव दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक ट्रैफिक जाम में बसों में सफर करने वाले यात्रियों के फंसने से प्रॉडक्टिविटी लॉस होता है जो कुल लॉस का करीब 75 प्रतिशत है।

पिछले सालों में फ्लाइओवर और सड़कों के बढ़ने के बावजूद दिल्ली की सड़कों में ट्रैफिक कम नहीं हो पा रहा है। पीक ऑवर्स की परिभाषा अब सुबह 9 बजे से रात के 9 बजे तक हो गई है। गुड़गांव, फरीदाबाद, नोएडा और गाजियाबाद को जोड़ने वाली रोड सबसे ज्यादा जाम रहती है।