दिल्ली में एफडीआई और सीलिंग के खिलाफ व्यापारियों की रैली, सरकार से अध्यादेश लाने की मांग



न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 दिसंबर): दिल्ली में सीलिंग और FDI के खिलाफ व्यापारियों की आज बड़ी रैली है। दिल्ली में सीलिंग रोकने के लिए मौजूदा संसद सत्र में सरकार पर अध्यादेश लाने के लिए दबाव बनाने और देश के खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की अनुमति नहीं देने की मांग को लेकर व्यापारियों ने आज जंतर मंतर पर रैली आयोजित करने की घोषणा की है।  व्यापारियों के संगठन कनफेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स के नेतृत्व में रैली आयोजित करने की घोषणा की गई है। जिसमें विभिन्न राज्यों के व्यापारी हिस्सा लेंगे।



व्यापारियों के संगठन कनफेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स का कहना है कि सीआईआई की ओर से मल्टीब्रांड रिटेल में 100 फीसदी एफडीआई को अनुमति के फैसले का देशभर में विरोध किया जा रहा है। कैट ने इस मामले में भारत बंद का भी आह्वान किया था। संगठन की मांग है कि इस डील को रद्द किया जाए और ई-कॉमर्स के लिए एक नीति बनाई जाए, लेकिन केंद्र सरकार इस मामले में गंभीर नहीं है। इससे कैट के सभी राज्यों के पदाधिकारी दिल्ली में बड़ी रैली निकालकर इसका विरोध करेंगे।



इसके साथ ही सीलिंग के खिलाफ भी दिल्ली के व्यापारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। जानकारी के मुताबिक सीलिंग के कारण अब तक करीब 20 हजार से ज्यादा दुकानों और फैक्ट्रियों को सील किया जा चुका है। इन लोगों का कहना है कि सरकार के इस कदम से इनके सामने अब रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है। इन लोगों की मांग है कि यहां के सांसद सीलिंग के खिलाफ कानून बनाने या फिर अध्यादेश लाने के लिए केंद्र सरकार पर दवाब बनाए।