JNU छात्र गुमशुदगी मामला: राजनाथ का दिल्ली पुलिस कमिश्नर को स्पेशल टीम गठित करने का आदेश

नई दिल्ली (20 अक्टूबर): JNU के गुमशुदा छात्र की तलाश के लिए दिल्ली पुलिस कमीश्नर से गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने दुबारा बात की। गृह मंत्री ने पुलिस कमिश्नर से कहा की स्पेशल टीम गठित कर छात्र को ढूढा जाए।

बताया जा रहा है कि गुमशुदा छात्र की तलाश के लिए 12 पुलिस टीम तैयार कर दी गई है। दिल्ली पुलिस छात्र नजीब के दोस्तों और रिश्तेदारों से भी पूछताछ कर रही है। ग़ौरतलब है कि स्कूल ऑफ बायोटेक्नोलॉजी का छात्र नजीब अहमद शनिवार से कथित तौर पर लापता है। उसका लापता होने से एक रात पहले कैंपस में उसका झगड़ा हुआ था। छात्र के अभिभावकों से मिली शिकायत के बाद वसंत कुंज उत्तर थाना में कल एक व्यक्ति के अपहरण और गलत तरीके से कैद कर रखने को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गई।

इस बीच लापता छात्र को लेकर चल रहा प्रदर्शन उस वक्त गंभीर हो गया जब आंदोलनकारी छात्रों ने कुलपति और दूसरे वरिष्ठ अधिकारियों को प्रशासनिक भवन में बंद कर दिया। विश्वविद्यालय के कुलपति एम जगदीश कुमार ने कहा, 'हम इमारत के भीतर दिन में 2.30 बजे से बंद हैं। हमारे साथ एक महिला सहकर्मी भी हैं जो अस्वस्थ हो गईं हैं क्योंकि उनको मधुमेह है। दूसरी ओर, जेएनयू के छात्रों ने अपने रूख का बचाव करते हुए दावा किया कि किसी को अवैध रूप से बंधक नहीं बनाया गया।'

जूएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष मोहित पांडेय ने कहा, हमने जेएनयू के प्रशासनिक भवन में किसी को अवैध रूप से बंधक नहीं बनाया। बिजली और दूसरी सभी तरह की आपूर्ति है। हमने भीतर खाना भेजा है। दूसरी तरफ, पुलिस विश्वविद्यालय परिसर के बाहर मौजूद है और अंदर दाखिल होने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन की अनुमति का इंतजार कर रही है।