गुरुपर्व: रोशनी से जगमग हुआ दिल्ली का बंगला साहेब, पीएम मोदी ने दी शुभकामनायें

नई दिल्ली(4 नवंबर): सिख धर्म में गुरुपर्व का महत्तव खास होता है, इसे प्रकाश उत्सव के तौर पर मनाया जाता है। प्रकाश की वो ही जगमगाहट दिल्ली के मशहूर बंगला साहेब गुरुद्वारें में आज भोर सवेरे देखी गई।

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी गुरुपर्व की शुभकामनायें अपने निजी ट्विटर हेंडल के जरिये लोगों तक पहुंचायी। उन्होंने गुरु नानक जी को शीश नमन करते हुये उनके महान विचारों को याद करने की बात कही।

- इस दिन सिख धर्म के पहले गुरु, गुरु नानक देव जिन्होंने सिख धर्म की स्थापना की थी उनका जन्म हुआ था। हर वर्ष गुरु पर्व की तिथि में परिवर्तन आता रहता है। हिंदू पंचाग के अनुसार गुरु पर्व कार्तिक माह की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। 

- गुरु नानक जी का जन्म 15 अप्रैल 1469 में तलवंडी नामक जगह हुआ था, जो अब पाकिस्तान के पंजाब हिस्से में है। इस दिन सिख धर्म के सभी लोग उनके जन्मदिन की खुशी मनाते हैं। गुरु नानक जी ने अपने व्यक्तित्व में दार्शनिक, योगी, गृहस्थ, धर्मसुधारक, समाजसुधारक, कवि, देशभक्त और विश्वबंधु सभी के गुण समेटे हुए थे।