अब नहीं चलेगी अस्पतालों की मनमानी, आधे रेट पर होगी सर्जरी

नई दिल्ली (29 मई): निजी अस्पतालों में आए दिन महंगी दवाई दने की खबरे आती रहती हैं। अस्पतालों के भारी-भरकम बिलों की शिकायतों को देखते हुए दिल्ली की केजरीवाल की सरकार ने एक ड्राफ्ट एडवाइजरी जारी की है। इस एडवाइजरी के मुताबिक दिल्ली नर्सिंग होम एक्ट के नियमों में बदलाव किए जाएंगे।मीडिया से बात करते हुए दिल्ली के स्वास्थय मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि निजी अस्पतालों में दवाई की ज्यादा कीमतों से लेकर बिल में तमाम तरह की गड़बड़ी की शिकायतें मिलती रही हैं। 100 रुपये के इंजेक्शन के 1000 रुपये, 400 रुपये की दवाई के 3000 रुपये तक वसूले जाने की शिकायतें मिली हैं। सरकार के इस कदम के बाद अब दवाई के खरीद मूल्य पर प्रॉफिट कैपिंग के साथ सर्जरी के बिलों में भी कमी होगी।इतना ही नहीं इलाज में काम न आने वाली दवाईयों के बिल को भी नहीं जोड़ा जा सकेगा। बहराल, दिल्ली सरकार के इस कदम से निजी अस्पतालों में व्यापक स्तर पर चल रही धांधली पर नकेल ही नहीं कसेगी बल्कि इससे लोगों को भी एक बड़ी राहत मिलेगी।