MCD चुनावों से पहले आंखें खोल देने वाली गंदगी...

नई दिल्ली (12 अप्रैल): दिल्ली में एमसीडी के चुनावों से पहले हर पार्टी एक दूसरे पर कीचड़ उछाल रही है, लेकिन हर दल का दावा है कि दिल्ली की जनता का खयाल सिर्फ वही रख सकते हैं। हालांकि देश की राजधानी के उन हिस्सों की ग्राउंड रिपोर्ट हैरान करने वाली है, दिल्ली के कई इलाके नर्क बन चुके हैं।


एमसीडी चुनाव से पहले सीलमपुर की जनता हिसाब मांग रही है। इस इलाके को देखकर कोई नहीं कह सकता कि ये देश की राजधानी दिल्ली है। नालियां भरी पड़ी हैं, पानी निकासी की व्यवस्था कोई व्यवस्था नहीं, सड़कें टूटी पड़ी हैं, एक पार्क कूड़े से अटा पड़ा है, दूसरा पार्क उजड़ा हुआ है और सार्वजनिक शौचालय के हालात ऐसे हैं कि किसी की जाने की हिम्मत नहीं होती। दावे थे कि सब चमचमा रहा है, पार्कों में जिम लगाई जा रही हैं और उन्हें विकसित किया जा रहा है। न्यूज 24 की ग्राउंड रिपोर्ट में दिल्ली के सीलमपुर में हर वादा बेमानी साबित हुआ।


साफ-सफाई, स्कूलों की व्यवस्था और स्ट्रीट लाइट से लेकर पार्क तक की व्यवस्था नगर निगम का काम है, लेकिन यहां हालात ये हैं कि ना जाने कब से यहां सफाई नहीं हुई। नालियों का पानी सड़क के बराबर बह रहा है। मतलब जरा सा ओवर फ्लो और पूरी नाली सड़क पर बहेगी। सोचिए ये हाल भरी गर्मियों का है। मानसून में इन गलियों को कीचड़ की नदी बनने में वक्त नहीं लगता।


सीलमपुर के डी ब्लॉक के हालात तो इससे भी खराब है। निगम के प्राथमिक विद्यालय के बराबर में जो गली है वो कूड़े से अटी पड़ी है। न्यूज 24 की टीम जब यहां पहुंची तो लोगों ने घेर लिया और सब अपना अपना दर्द बताने लगे। कहने को सीलमपुर विधानसभा में 4 पार्षद आते हैं, लेकिन वोट मांगने के अलावा कभी कोई नेता दिल्ली के इस मुस्लिम बहुल इलाके की ओर मुंह नहीं करता है।