दिल्ली में दोस्त बना दरिंदा, घर में घुसकर नाबालिग से गैंगरेप

नई दिल्ली(15 जनवरी): दिल्ली के जगतपुरी इलाके में नाबालिग से गैंगरेप का मामला सामने आया है। तीन लोगों ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। सभी आरोपी हिस्ट्री शीटर हैं, और पुलिस ने अभी तक किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है

दिल्ली के तीन लड़कों ने अपने दोस्त के घर में घुसकर उसकी नाबालिग साली से बलात्कार किया। दिल्ली की ये लड़की 10वीं क्लास में पढ़ती है। पढ़ाई के लिए ये अपनी बहन के घर पर ही रहती है। वारदात वाले दिन इसकी दीदी और जीजा घर पर नहीं थे। ये लड़की अपने दो भांजों के साथ अकेली थी। 

कुत्तों का बिजनेस करने वाले इसके जीजा के तीन दोस्त उस दिन घर पहुंचे। पहले से जान पहचान होने की वजह से लड़की ने अपने जीजा के दोस्तों के लिए दरवाजा खोल दिया। लेकिन जैसे ही पता चला कि घर में कोई नहीं है घर में घुसे लड़कों ने नाबालिग लड़की का गैंगरेप कर दिया। घर में मौजूद दो और बच्चों को कमरे में बंद कर दिया गया था। लड़की ने किसी तरह अपनी बहन को फोन पर जानकारी दी और फिर पुलिस आई। नाबालिग लड़की का मेडिकल कराया गया और केस दर्ज कर लिया गया। 

जीजा के दोस्त होने की वजह से पीड़ित लड़की ने पुलिस को उन लोगों के नाम बता दिए जिन लोगों ने उसके साथ घिनौनी हरकत की थी। लेकिन नामजद रिपोर्ट के बावजूद पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया। लोगों के मुताबिक मुख्य आरोपी एक शातिर अपराधी है और वो अभी गैंगरेप के केस में ही जेल से छूटा है। परिवार का आरोप है कि गैंगरेप में शामिल सभी लड़के इलाके के नामी बदमाश हैं और उनपर कई मामले चल रहे हैं। लेकिन कुत्तों के बिजनेस की वजह से लड़की के जीजा का इन लोगों के साथ कारोबारी रिश्ते बने और फिर जान पहचान दोस्ती में बदल गई थी। 

आरोपी अब धमकी दे रहे हैं, रेप पीड़िता और उसका परिवार डर के साये में जी रहा है वहीं दूसरी तरफ ये भी सच है कि अब तक किसी भी आरोपी की गिऱफ्तार नहीं हो पाई है। पीड़ित परिवार पुलिस पर आरोपियों को शह देने के आरोप लगा रहा है। फिलहाल एक एनजीओ नाबालिग लड़की को इंसाफ दिलाने आगे आया है।