दिल्‍ली में डबल मर्डर से सनसनी, प्रॉपर्टी के पिता को मार डाला

आनंद कुमार, नई दिल्ली (28 जनवरी): अठ्ठासी साल के हरी किशन शर्मा अपनी बेटी बाला का पता हुआ करती थी, लेकिन आज सुबह घर से बरामद हुई दोनों की लाश। बाप और बेटी की लाश घर के अलग-अलग कमरों में थी। मृतक हरिकिशन की पुत्रवधू के मुताबिक उसके पति सुबह जब इस घर में आए तो हरिकिशन और बाला बेसुध थे। आनन-फानन में लोगों ने दोनों ने पास के ही बाड़ा हिन्दूराव अस्पताल में दाखिल करवाया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

मौके पर पहुंचे पुलिस और क्राईम टीम ने अभी ये साफ़ नही किया है कि मौत कैसे और किसने की है। बुजुर्ग हरिकिशन वर्मा के मुंह व बेटी के शरीर पर चोट के निशान है। दिल्ली में हुए कत्ल की मिस्ट्री में नया मोड़ तब आया जब हरिकिशन की बेटी ने मीडिया के सामने सनसनीखेज बयान दिया कि उसके पिता और उसकी तलाकशुदा बहन का कातिल कोई और नहीं बल्कि उसके भाई ही हैं।

दरअसल अट्ठासी साल के हरिकिशन वर्मा के परिवार में प्रॉपर्टी का विवाद चल रहा था और अब हरिकिशन की बेटी के इस बयान के बाद दिल्ली पुलिस भी शास्त्री नगर में हुए इस दोहरे हत्याकांड की जांच प्रॉपर्टी विवाद के एंगल से करनी शुरू कर दी है। मृतक हरिकिशन वर्मा के 3 बेटे और 4 बेटियां है। लड़के सरस्वती विहार में अलग रह रहे है, सभी को हरिकिशन वर्मा ने अलग-अलग फ्लेट्स दिए हुए थे, लेकिन इसके बावजूद घर में प्रॉपर्टी को लेकर विवाद चल रहा था। पुलिस अब पास में लगे सीसीटीवी की फुटेज को भी खंघालने में जुटी है, क्योंकि घर की बेटी ही अपनों पर प्रॉपर्टी के लिए पिता और बहन की हत्या का आरोप लगा रही है। मृतक हरिकिशन वर्मा रिटायर्ड टीचर थे।