Blog single photo

अवैध रूप से लिंग परीक्षण करने वाले डॉक्टर और महिला सहयोगी गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने अवैध तरीके से भ्रण के लिंग की जांच करने वाले एक डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने एक निजी क्लीनिक पर छापेमारी कर आरोपी डॉक्टर और उसके महिला सहयोगी

न्यूज 24 ब्यूरो, वेद शुक्ला, नई दिल्ली (21 दिसंबर): दिल्ली पुलिस ने अवैध तरीके से भ्रण के लिंग की जांच करने वाले एक डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने एक निजी क्लीनिक पर छापेमारी कर आरोपी डॉक्टर और उसके महिला सहयोगी के पास से 20 लाख से अधिक रुपयों के अलावा दो लैपटॉप और अल्ट्रासाउंड मशीन बरामद की है। पुलिस की मानें तो आरोपी डॉक्टर दिल्ली के कई नामी अस्पतालों में नौकरी कर चुका है।दिल्ली पुलिस ने भ्रूण जांच करने के आरोप में दक्षिणी पूर्वी दिल्ली के सन लाइट कॉलोनी इलाके के एक क्लीनिक में छापा मारकर एक डॉक्टर और उसकी सहयोगी महिला को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए गए डॉक्टर का नाम मनोज आहूजा और असिस्टेंट का नाम कविता है। पुलिस ने इनके खिलाफ पीएनडीटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। बताया जा रहा है कि दिल्ली और चंडीगढ़ के कुछ अस्पतालों से कस्टमर तलाशे जाते थे और फिर इन कस्टमर को दक्षिणी दिल्ली के गेस्ट हाउसों में रखा जाता था। डॉक्टर एक कस्टमर से 30 हज़ार से 40 हज़ार रुपये वसूलता था, पुलिस को इस क्लीनिक की जानकारी रोहतक के स्वास्थ विभाग से मिली फिर एक टीम बनाकर और एक कस्टमर भेजकर क्लीनक में छापेमारी की गई।बताया जा रहा है कि डॉक्टर मनोज आहूजा के असिस्टेंट कविता ने उस कस्टमर से 12 हज़ार रुपये मांगे और बाकी के पैसे टेस्ट पूरा होने के बाद देने को कहा। पुलिस ने 3 अल्ट्रासाउंड मशीनें और 20 लाख से ज्यादा का कैश जब्त किया है। जानकारी के मुताबिक डॉक्टर आहूजा ने पटियाला यूनिवर्सिटी से 1985 में रेडियोलॉजी का कोर्स किया था। 1986 में वो दिल्ली आ गया और ग्रेटर कैलाश पार्ट वन में रह रहा था। डॉक्टर मनोज आहूजा दक्षिणी दिल्ली के कुछ निजी अस्पतालों में भी बैठता था। उसने कविता को इसी साल अगस्त में नौकरी पर रखा था और उसे एक कस्टमर के टेस्ट पर 10 से 12 हज़ार रुपये मिलते थे।

Tags :

NEXT STORY
Top