'केजरीवाल की है धोखाधड़ी, क्रिमिनल केस का करना पड़ेगा सामना! '

नई दिल्ली (12 जनवरी):  दिल्ली के पूर्व राज्यपाल नजीब जंग ने बुधवार को कहा कि मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल आप सरकार के उन निर्णयों के मामलों में आपराधिक आरोपों का सामना कर सकते हैं, जिनमें शुंगलू समिति ने अनियमितता पाई थी। उन्होंने ‘भाई भतीजावाद’ और ‘बड़े स्तर पर पक्षपात’ किए जाने का आरोप भी लगाया। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि केजरीवाल ने संदिग्ध जासूसी के मामले में एक खुफिया इकाई बनाई है।

जंग ने एक टीवी चैनल से कहा कि केजरीवाल की पत्नी के रिश्तेदार निकुंज अग्रवाल को स्वास्थ्य मंत्री का विशेष कार्याधिकारी नियुक्त करने में भाई भतीजावाद और पक्षपात का सन्देह उत्पन्न होता है। आप सरकार ने जैन की पुत्री सौम्या जैन को अपनी मोहल्ला क्लीनिक परियोजना में परामर्शक नियुक्त किया था।इन दोनों मुद्दों और दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल द्वारा की गयी नियुक्त पर जंग ने कहा कि यह ‘धोखाधड़ी, भाई भतीजावाद और पक्षपात’ के समान है तथा इन मामलों में प्राथमिकी दर्ज की गई हैं।उन्होंने कहा, ‘जैन ने यह गलत बयान दिया था कि उन्हें (सौम्या) को भुगतान नहीं किया जाता। तथ्य यह है कि उन्हें भुगतान किया गया किन्तु उसे लौटा दिया गया। वक्फ बोर्ड के मामले में भी प्राथमिकी दर्ज की गई थी।’