मंगलवार को जरुर शिकार पर निकलता था दिल्ली का दरिंदा

नई दिल्ली(17 जनवरी): दिल्ली के सीरियल रेपिस्ट सुनील रस्तोगी के बारे में एक के बाद एक खुलासे सामने आ रहे हैं। 500 से ज्यादा बच्चियों को अपनी हैवानियत का शिकार बना चुका यह शख्स अपने मंसूबों को अंजाम देने के लिए मंगलवार के दिन जरूर निकलता था।

- बता दें कि आरोपी रस्तोगी ने 500 से ज्यादा बच्चियों के यौन शोषण की बात कबूली है और 2500 से ज्यादा बच्चियों को शिकार बनाने की कोशिश करने की बात कही है।

- रस्तोगी की उम्र 38 साल है और इसके परिवार में पत्नी और 5 बच्चे हैं।

- रविवार को दिल्ली पुलिस ने मासूम बच्चियों से बलात्कार के आरोपी को न्यू अशोक नगर से गिरफ्तार किया था।

- पुलिस के मुताबिक, यह शख्स बच्चों को बहलाकर अपने साथ ले जाता था और फिर रेप की वारदात को अंजाम देता था।

- एक बच्ची के माता-पिता की तरफ से मुहैया करवाईं गईं ताजा सीसीटीवी फुटेज में सामने आया है कि रस्तोगी एक 10 साल की बच्ची को बुला रहा है, उससे बातें कर रहा है व करीब 5 मिनट तक बातचीत करने के बाद उससे उसका नाम भी पूछता है। रस्तोगी बातचीत से यह सुनिश्चित कर लेता था कि बच्ची उसके आस-पास की नहीं है और किसी रिश्तेदार के साथ नहीं रहती।

- पुलिस ने उन दो अपार्टमेंट्स के ब्लॉक चिन्हित कर लिए हैं, जहां यह युवक लड़कियों की रेकी करता था। जिस व्यक्ति के ये दोनों घर हैं, पुलिस उससे भी पूछताछ कर सकती है। जांच में खुलासा हुआ है कि रस्तोगी या तो सीढ़ियों पर या फिर छत पर अपने मंसूबों को अंजाम देता था। रस्तोगी के चंगुल से छूटकर आए एक बच्चे ने बताया कि रस्तोगी ने ए ब्लॉक में घर किराए पर ले रखा है।

- बच्चे ने बताया कि उसने मुझे और मेरे भाई-बहनों को यहीं रहने को कहा, पर जैसे-तैसे हम भाग निकला। जांच में यह भी सामने आया कि रस्तोगी बच्चों के सामने ही उनके पैरंट्स को कॉल करने की ऐक्टिंग करता था और उन्हें भरोसे में लेकर उनके साथ हो लेता था।