दिल्ली में ऑटो-टैक्सी की हड़ताल खत्म

नई दिल्ली (28 जुलाई): राजधानी दिल्ली वालों के लिए एक राहत भरी खबर आ रही है। दिल्ली में ऑटो-टैक्सी वालों ने हड़ताल खत्म करने का ऐलान किया है। सरकार के भरोसे के बाद ऑटो-टैक्सी यूनियन ने ऐसा किया है।

खबर के अनुसार, दिल्ली सरकार ने ऑटो-टैक्सी यूनियन को 8 में से 6 मांग पूरा करने का दिया भरोसा। सरकार ने कहा कि वह एप आधारित टैक्सी के लिए पालिसी लाएगी। वहीं दिल्ली में नए टैक्सी कि परमिट पर रोक से सरकार ने इंकार किया है। इसी के साथ एमसीडी के टोल टैक्स को खत्म करने की मांग पर सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया है।

आपको बता दें कि ऑटो टैक्सी यूनियन की ज्वाइंट एक्शन कमेटी के लोग मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के घर के बाहर भूख हड़ताल पर बैठे हुए थे। यूनियन का कहना है कि केजरीवाल सरकार ऑटो और टैक्सी के मुद्दों को पिछले कई महीनों से नज़रअंदाज कर रही है।

ऑटो-टैक्सी यूनियन ने यह मांगें रखी... 1. मोबाइल एप आधारित टैक्सी सेवा पर तत्काल प्रभाव से रोक लगे। 2. नई टैक्सी के परमिट जारी करने पर रोक लगे। 3. 15 साल पुरानी काली पीली टैक्सीयों की रिप्लेसमेंट ऑटो की तरह शुरू की जाये। 4. ऑटो रिक्शा और टैक्सी के परमिट ट्रांसफर प्रक्रिया को सरल बनाया जाये। 5. तीन महीने के लिए लाइसेंस सस्पेंड करने की प्रक्रिया पर रोक लगे।