भौगोलिक स्थिति के कारण भारत को हमेशा तैयार रहने की जरूरत: जेटली


नई दिल्ली ( 28 अगस्त ): चीन के साथ सीमा पर जारी तनातनी के बीच रक्षामंत्री अरुण जेटली ने रविवार को कहा है कि भौगोलिक स्थिति की वजह से भारत को हमेशा अपनी सुरक्षा के लिए तैयार रहना है। रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने भारत की रक्षा तैयारियों को सर्वश्रेष्ठ बताते हुए कहा कि, 'हमारी रक्षा प्रणाली दुनिया में बेहतरीन मानी जाती है। उन्होंने कहा कि किसी भी परिस्थिति में भारत खुद की रक्षा करने में सक्षम है। हमारी भौगौलिक परिस्थितियां ऐसी हैं कि भारत को हमेशा तैयार रहना होता है'। बता दें कि जेटली ने ये बातें हैदराबाद में कहीं। वे यहां जमीन से हवा में मारक क्षमता वाली मिसाइल को भारतीय नौ सेना को सौंपने आए थे।

उन्होंने आगे कहा कि, 'पूरे देश को सशस्त्र बलों में विश्वास है, जो दुनिया की कुछ सबसे अच्छी परंपराओं में से एक का प्रतिनिधित्व करते हैं। हमें अपने बलों को उस प्रत्येक प्रणाली से लैस करने की जरूरत है जिसकी उन्हें आवश्यकता है। भारतीय अब इतने काबिल हैं कि वह कम कीमत पर विकसित अर्थव्यवस्थाओं को सेवाओं की पेशकश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, विकसित दुनिया में मुश्किल से कोई ऐसा देश है जहां भारत की प्रतिभाएं दिखती नहीं हो। चाहे वह चिकित्सा का क्षेत्र हो या प्रौद्योगिकी का। लिहाजा, हमारे पास न सिर्फ मानव संसाधन का बड़ा समूह है बल्कि हमारे पास ऐसे संसाधन भी है जो अन्य देशों में भी मदद देते हैं।