मायावती ने कहा, जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक आधार पर लिए जा रहे निर्णय

नई दिल्ली ( 6 मई ): बसपा प्रमुख औप उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा है कि जम्मू कश्मीर में देशहित की बजाय राजनीति फायदे को ध्यान में रखकर निर्णय लिए जा रहे हैं। इसी वजह से वहां की हालात लगातार खराब होते जा रहे हैं। वहां बीजेपी और पीडीपी गठबंधन की सरकार होने के बावजूद सरकार विफल साबित हो रही है।


जम्मू-कश्मीर, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के पदाधिारियों की बैठक में मायावती ने कहा कि पीडीपी-बीजेपी सरकार की गलत नीतियों की वजह से आम जनता के साथ वहां सेना को भी कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वहां के हालात को सामान्य नहीं कहा जा सकता।


उन्होंने कहा, ' केंद्र और राज्य सरकारों से आम जनता का विश्वास उठने की वजह से वहां राजनीतिक शून्यता की स्थिति हो गई है। श्रीनगर में लोकसभा उपचुनाव में लोगों की कम भागेदारी और अनंतनाग में उप चुनाव को स्थगित करना यह साबित करता है कि सरकार से भरोसा उठ चुका है। वहां की जनता में विश्वास पैदा करना जरूरी है लेकिन अपने अहंकार के कारण सरकार हर मामले को बंदूक से हल करना चाहती है।' मायावती ने तीनों राज्यों के पार्टी पदाधिकारियों को संगठन मजबूत करने के निर्देश दिए।