भारत-पाक विदेश स्तर की वार्ता पर होगा फैसला, सुषमा ने PM मोदी से की चर्चा

नई दिल्ली(14 जनवरी): भारत-पाक संबंधों के लिहाज से गुरुवार का दिन बेहद अहम है। आज भारत-पाक के बीच विदेश सचिव स्तर की बातचीत पर फैसला होना है। 15 जनवरी यानि कल ये बातचीत होनी थी, लेकिन पठानकोट हमले के बाद अभी तक ये तय नहीं हो पाया है कि बातचीत होगी या नहीं।

बुधवार को रात तो विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पीएम नरेंद्र मोदी मुलाकात की। माना जा रहा है कि इस मुलाकात का मेन एजेंडा पाकिस्तान के साथ होनी वाली बातचीत ही थी। सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी और विदेश मंत्री ने अब तक के हालात पर विस्तार से चर्चा की है, लेकिन अभी तक आखिरी फैसला नहीं लिया गया है। 

दूसरी तरफ इस मुलाकात के कुछ घंटों पहले पाकिस्तान का बदला रुख भी देखने को मिला। पाक मीडिया के मुताबिक आतंकी मसूद अजहर और उसके कुछ साथियों को हिरासत में लिया गया है। माना जा रहा है कि पाक सरकार ने ये कार्रवाई भारत के दवाब में की हैं। लेकिन यहां ये बात जान लेनी जरुरी है कि अब तक भारत सरकार को इस कार्रवाई की औपचारिक जानकारी नहीं मिली है।

पाकिस्तान ने आतंकी संगठन जैश के दफ्तरों को सील भी किया है। आपको याद होगा कि पठानकोट एयरबेस पर हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान को बेहद कड़ा संदेश दिया था। आतंकियों पर कार्रवाई की दो टूक बात कही थी।

वहीं देश के राष्ट्रीय सुऱक्षा सलाहकार अजीत डोवाल फ्रांस में हैं, जो आज देश लौटने वाले हैं। माना जा रहा है कि डोवाल के आने के बाद ही पाकिस्तान के साथ बातचीत के मसले पर हाई लेवल मीटिंग होगी। हालात का जायजा लिया जाएगा। पाकिस्तान की ओर की गई कार्रवाई की समीक्षा की जाएगी और इसके बाद ही विदेश सचिव स्तर की बातचीत पर रुख साफ किया जाएगा। 

फिलहाल पाकिस्तान कार्रवाई करते दिख रहा है। पहली नजर में भारत की कार्रवाई की मांग पर अमल होता दिख रहा है, लेकिन सच ये भी है कि पाकिस्तान में ऐसी कार्रवाईयां बहुत ज्यादा मायने नहीं रखती।