इस खतरनाक़ 'बॉम्बर' की एक तस्वीर से दुनिया में मच गयी खलबली

नई दिल्ली (8मार्च ): अमेरिकी एयर फोर्स ने जबसे अपने ने फाइटर प्लेन बी-21 की फोटोज़ जारी की हैं तब से दुनिया भर की सेनाओं में खलबली सी मची हुई है। ऐसा कहा जाता है कि इन विमानों के जरिए अमेरिका दुनिया के किसी भी कौने में दुश्मन को कुछ ही देर में ढेर कर सकता है। इसे बनाने में 6 लाख 31 हज़ार करोड़ रुपये से ज्यादा का खर्च आया है। अमेरिका के पास फिल्हाल बी2 ​स्टील्थ बॉम्बर है। इसके दम पर अमेरिका ने महज कुछ घंटों में ही लीबिया को जमींदोज कर दिया था। बी-21 इसी विमान का उन्नत स्वरूप है।

बी2 ​स्टील्थ बॉम्बर को भी दुनिया के सबसे क्रूर बमवर्षकों में जाना जाता है। यह परमाणु बम और क्रूज मिसाइल को भी लेकर चल सकता है। स्टील्थ विमानों की खासियत यह है कि उन्हें दुश्मन के रडार से कभी पकड़ ही नहीं पाते। रडार में इस्तेमाल होने वाली रेडियो तरंगे इलेक्ट्रोमैग्नेटिक होती हैं।

 

बी-21 बाहरी सतह पर ऐसे मटेरियल और पेंट का इस्तेमाल किया गया है जो रेडियो तरंगों को सोख लेते हैं। ऐसे में रडार से निकली तरंगे लौटकर नीचे नहीं जातीं और दुश्मन को अपने इलाके में विमान के होने का अंदाज नहीं हो पाता।

बी-21के ऊपर और नीचे का हिस्सा नुकीला ना होकर बेहद चपटा बनाया गया है। रडार सेंटर से निकलने वाली रेडियो तरंगे विमान की सतह से तिरछे टकराती हैं और नीचे न जाकर दूसरी ओर निकल जाती हैं।