DDA की नई हाउसिंग स्कीम अगस्त में

नई दिल्ली(23 जुलाई): डीडीए की नई हाउसिंग स्कीम अगस्त में लॉन्च होने जा रही है। उम्मीद जताई जा रही है कि 10 अगस्त को एलजी नजीब जंग की अध्यक्षता में होने वाली डीडीए की मीटिंग में स्कीम को ग्रीन सिग्नल मिल जाएगा। इसके लिए डीडीए ने सारी औपचारिकताएं लगभग पूरी कर ली हैं।

इसमें 2014 वाली हाउसिंग स्कीम के सरेंडर किए गए तमाम फ्लैट भी शामिल होंगे। इसकी पुष्टि डीडीए के वाइस चेयरमैन अरुण गोयल ने भी की है। उन्होंने कहा है कि स्कीम को ऑनलाइन किया जाएगा ताकि ट्रांसपैरंसी बनी रहे। उन्होंने बताया कि नई हाउसिंग स्कीम-2016 को 10 अगस्त की अथॉरिटी मीटिंग में मंजूरी मिलते ही कुछ ही दिनों में लॉन्च कर दिया जाएगा।

नई हाउसिंग स्कीम से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि स्कीम में 12 हजार से अधिक फ्लैट होंगे। इनमें 10 हजार 700 फ्लैट वे हैं, जिन्हें लोगों ने 2014 की पुरानी हाउसिंग स्कीम में सरेंडर किया था। स्कीम में 25 हजार 39 फ्लैटों का ड्रॉ निकाला गया था। इनमें 40 फीसदी से अधिक फ्लैटों को लोगों ने अलग-अलग कारणों के चलते सरेंडर कर दिया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक नई हाउसिंग स्कीम में लाए जा रहे सारे फ्लैट पुराने होंगे। 10 हजार 700 फ्लैट तो सरेंडर किए होंगे और बाकी वे फ्लैट होंगे, जो आज तक बिके नहीं हैं या फिर ड्रॉ में निकल तो गए थे, लेकिन लोगों के पास उन्हें खरीदने के लिए पूरे पैसे नहीं थे।

कुछ ही फ्लैट नए रखे गए हैं। अधिकारी का कहना है कि नई स्कीम के अधिकतर फ्लैट रोहिणी, नरेला और द्वारका में हैं। रोहिणी वाले फ्लैट सिंगल रूम वाले हैं। हालांकि स्कीम में एलआईजी, एमआईजी और एचआईजी फ्लैटों को शामिल किया जा रहा है। अधिकारी ने बताया कि चूंकि इस वक्त प्रॉपर्टी मार्केट में मंदी आई हुई है। ऐसे में हमने नई स्कीम में लिए जाने वाले फ्लैटों की कीमत मार्केट में प्रॉपर्टी के डाउनफॉल को देखते हुए ही रखने की मांग की है।

उम्मीद जताई जा रही है कि कम से कम 10 हजार 700 पुराने वाले फ्लैटों की कीमतें 2014 वाली ही हो सकती हैं। यह भी मुमकिन है कि यह कीमत 2014 वाली दरों से भी कुछ कम हों। फिलहाल कीमतों पर अभी अंतिम फैसला होना बाकी है। अधिकारी ने बताया कि डीडीए के खाली फ्लैटों की कीमतों का हर साल रिव्यू होता है। आमतौर पर इनमें हर साल 12 फीसदी की बढ़ोतरी की जाती है। लेकिन अब बाजार मंदा होने की वजह से इनकी कीमतों को कम ही रखने पर विचार किया जा रहा है।