फ्लॉप शो साबित हो रहा है DDA हाउसिंग स्कीम 2017 ?

नई दिल्ली (31 जुलाई): दिल्‍ली विकास प्राधिकरण यानि DDA की हाउसिंग स्‍कीम को शुरू हुए तकरीबन 1 महीना हो चुका है लेकिन लोगों की इसको लेकर रुचि न के बराबर देखने को मिल रहा है। DDA डीडीए ने हाउसिंग स्कीम के तहत 12,072 फ्लैट्स उतारे हैं, जिसमें से LIG फ्लैट्स की संख्या 11,197 है, तो वहीं HIG के 87, MIG के 404 और जनता फ्लैट्स की संख्या 384 है.लेकिन अभी तक सिर्फ 5000 रजिस्‍ट्रेशन हुए हैं, वहीं अब तक सिर्फ 55000 फॉर्म की बिक्री हुई है। बताया जा रहा है कि बैंकों द्वारा इसमें रुचि नहीं लिए जाने के कारण इस बार DDA स्‍कीम का फीका रिस्‍पॉन्‍स देखने को मिल रहा है।

DDA के अधिकारियों के अनुसार सिर्फ जरूरतमंद लोग ही इस स्‍कीम का फायदा ले सकें, इसके लिए लॉटरी में फ्लैट निकलने पर रजिस्‍ट्रेशन की 25 फीसदी राशि को जब्‍त करने का नियम इस बार लागू किया गया है। अधिकारियों के अनुसार पिछली DDA स्‍कीम में ज्‍यादातर निवेशकों ने पैसा लगाया था, जिसे रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। DDA के मुताबिक अब तक करीब 5,000 रजिस्ट्रेशन हुए हैं।

अब DDA को ये डर सता रहा है कि कहीं पिछली स्कीम की तरह उनकी ये स्कीम भी फ्लाप ना हो जाए। दरअसल पिछली स्कीम के दौरान करीब 11,000 डीडीए फ्लैट्स लोगों ने ये कहकर सरेंडर कर दिया था कि फ्लैट्स की क्वालिटी बेहद खराब है।जानकारी के मुताबिक पिछली स्कीम में भी DDA ने EWS कैटेगरी के फ्लैट्स को LIG कैटेगरी में रख कर ड्रा निकाला था। लिहाजा लोगों ने फ्लैट्स लौटा दिए पिछली स्कीम से भी DDA ने कोई सबक नहीं सीखा।

फिलहाल DDA आवेदन के आखिरी हफ्ते के रिस्पांस का इंतजार कर रही हैं, अगर तब तक आवेदनों की संख्या में इजाफा नहीं हुआ तो हो सकता है कि आवेदन के लिए आखिरी दिन की तारीख और बढा दी जाए।