Blog single photo

मुंबई: इस बहादुर बेटी ने ट्रेन के आगे कूदकर बचाई मां की जान, अस्पताल में भर्ती

मुंबई के जोगेश्वरी स्टेशन पर बुधवार शाम को एक बड़ा हादसा होते-होते बचा। बता दें, यहां एक 38 वर्षीय महिला चलती ट्रेन के आगे कूद गई, लेकिन महिला की बेटी तुरंत ट्रैक पर आई और मां को खींच लिया। हालांकि ट्रेन जब तक धीमी होती, तब तक मां-बेटी उसकी चपेट में आ चुके थे। दोनों अस्पताल में भर्ती हैं, जहां मां की हालत गंभीर है और बेटी खतरे से बाहर है।

                                                                                                            Image Source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (30 नवंबर): मुंबई के जोगेश्वरी स्टेशन पर बुधवार शाम को एक बड़ा हादसा होते-होते बचा। बता दें, यहां एक 38 वर्षीय महिला चलती ट्रेन के आगे कूद गई, लेकिन महिला की बेटी तुरंत ट्रैक पर आई और मां को खींच लिया। हालांकि ट्रेन जब तक धीमी होती, तब तक मां-बेटी उसकी चपेट में आ चुके थे। दोनों अस्पताल में भर्ती हैं, जहां मां की हालत गंभीर है और बेटी खतरे से बाहर है।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना बुधवार शाम को जोगेश्वरी स्टेशन पर हुई और स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। हमारे सहयोगी 'मिरर' को मिली फुटेज में साफ देखा जा सकता है कि पूरी घटना महज कुछ सेकंड में हो गई।चशमदीदों के मुताबिक कि सुनीता विधाले ट्रेन के आगे कूदकर जान देने जा रही थीं, तभी उनकी 16 वर्षीय बेटी ने उन्हें बचाने की पूरी कोशिश की। गोरेगांव निवासी सुनीता अब कूपर अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही हैं।यहां पर हैरानी की बात है कि रेलवे प्रशासन इसे जहां आत्महत्या के प्रयास का केस बता रहा है, वहीं परिवार इस दावे से इनकार कर रहा है। सुनीता के पति संदीप ने कहा, 'दोनों रेलवे ट्रैक पार करने की कोशिश कर रहे थे, तभी ट्रेन ने उन्हें टक्कर मार दी।'एक अधिकारी ने मिरर से बताया, 'दोनों महिलाओं में से एक अचानक से ट्रैक की तरफ भागी, तभी दूसरी ने उसे बचाने का प्रयास किया और इसी दौरान दोनों की ट्रेन से टक्कर हो गई।' हादसे में सुनीता का दाहिना हाथ ट्रेन के नीचे आकर कट गया। सुनीता को अभी होश भी नहीं आया है। वहीं उनकी बेटी के माथ और आंख के पास चोट आई है।

Tags :

NEXT STORY
Top