दार्जिलिंग: जीजेएम ने किया अनिश्चितकालीन बंद का एलान, 3 हिरासत में


कोलकाता(12 जून): दार्जिलिंग में गोरखा जनमुक्ति मोर्चा ने अनिश्चितकालीन बंद का आह्वान किया है। अलग गोरखालैंड की मांग और ममता सरकार के बांग्ला भाषा की अनिवार्यता के चलते दार्जिलिंग में अस्थिर माहौल बना हुआ है। जीजेएम ने स्कूलों, कॉलेजों, ट्रांसपोर्ट, होटलों को बंद के दायरे से बाहर रखा है और उसने कहा कि बैंक सप्ताह में केवल दो दिन खुले रहेंगे। जीजेएम नेतृत्व ने गोरखालैंड की मांग पर ध्यान देने का अनुरोध करते हुए केंद्र को पत्र लिखा है।


- जीजेएम महासचिव रोशन गिरी ने संगठन की केंद्रीय समिति की बैठक के बाद कहा, ‘सोमवार से जीटीए कार्यालय, बैंक और सरकारी कार्यालय अनिश्चिकाल तक बंद रहेंगे। सार्वजनिक लेनदेन के लिए बैंक सप्ताह में दो बार खुले रहेंगे। हमने स्कूलों, कॉलेजों, परिवहन, होटलों को बंद के दायरे से बाहर रखा है।’


- साथ ही उन्होंने घोषणा की कि दार्जीलिंग, कलिंपोंग, कुर्सियांग, मिरिक, सिलीगुड़ी, तराई और दोआर क्षेत्र से बंगाली में लिखे सभी नोटिसबोर्ड हटाए जाएंगे। केवल अंग्रेजी और नेपाली में लिखे नोटिसबोर्ड रहने दिए जाएंगे।


- गिरी ने कहा, ‘हम जीटीए कार्यालयों में नहीं जाएंगे। हिल्स में एक सप्ताह में तीन बार हम टॉर्च रैली का आयोजन करेंगे।’