'दाना मांझी की बेटियों की शिक्षा का मुफ्त इंतजाम'

नई दिल्ली (10 सितंबर): पत्नी की लाश को 10 किलोमीटर तक कंधे पर ढोने वाले ओडी़शा के दाना मांझी की तीन बेटियों की पढ़ाई-लिखाई का खर्च कलिंगा इंस्टीटयूट ऑफ सोशल साइंस- किस उठायेगा। ओड़ीशा के कई सामाजिक संगठनों और स्थानीय विधायक कैप्टन दिब्याशंकर ने 'किस' से दाना मांझी के बच्चों की शिक्षा-दीक्षा का भार उठाने का आग्रह किया था।

सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ दाना मांझी ने'किस'के संस्थापक डॉक्टर अच्युत सामंत से मुलाकात की। उनके आग्रह पर 'किस' प्राधिकारियों ने दाना मांझी की बेटी चांदनी, सोनी और प्रमिला के दाखिले की अनुमति दे दी।