दलित पदयात्रा शुरू: 'नहीं उठाएंगे मृत पशु, ऊना तक चलेगी ये यात्रा'

नई दिल्ली (5 अगस्त): अहमदाबाद में आज से दलित पदयात्रा की शुरुआत की गई है। ऊना कांड में हुई दलितों की पिटाई के बाद भड़के दलित आंदोलन के तहत आज से दलित अस्मिता यात्रा की शुरुआत की गई। दलित अत्याचार विरोधी समिट द्वारा आयोजित इस पदयात्र में मुस्लिम समुदाय के लोग भी शामिल हुए।

अहमदाबाद के वेजलपुर इलाके से शुरू हुई ये पदयात्रा 15 अगस्त को ऊना पहुंचेगी जहां स्वतंत्रता दिवस मनाया जाएगा।  फिलहाल 78 लोगो के साथ इस यात्रा की शुरुआत की गई है। लेकिन रास्ते में काफी लोगो के जुड़ने की संभावना है। यहां बता दे की दलित महासम्मेलन में इस बात का एलान किया गया था की आज के बाद कोई भी दलित मृत पशु नहीं उठायेगा और उत्पीड़न नहीं सहन करेगा। इसी संदेश के साथ ये यात्रा निकली है गुजरात के बाद ये संदेश पूरे भारत में पहुंचाने की योजना है।